हरिद्वार | बैरागी साधुओं ने अपर मेलाधिकारी को पीटा, अखाड़ा परिषद ने जांच के लिए बनाई कमेटी

महाकुंभ के पहले ही दिन हरिद्वार में जमकर बवाल हुआ। बैरागी कैंप क्षेत्र में अवस्थापना सुविधाएं मुहैया नहीं कराने का आरोप लगाते हुए बैरागी संतों ने अपर मेलाधिकारी हरबीर सिंह पर हमला कर दिया। हमले में हरबीर सिंह के आंख और शरीर में कई जगह चोट आई हैं। अपर मेलाधिकारी को बचाने गए उनके सुरक्षा कर्मी की भी पिटाई कर दी। पिटाई से सुरक्षा कर्मी बेहोश होकर गिर गया। चालक को भी दौड़ा दिया।
 
हरिद्वार | बैरागी साधुओं ने अपर मेलाधिकारी को पीटा, अखाड़ा परिषद ने जांच के लिए बनाई कमेटी

हरिद्वार (उत्तराखंड पोस्ट) महाकुंभ के पहले ही दिन हरिद्वार में जमकर बवाल हुआ। बैरागी कैंप क्षेत्र में अवस्थापना सुविधाएं मुहैया नहीं कराने का आरोप लगाते हुए बैरागी संतों ने अपर मेलाधिकारी हरबीर सिंह पर हमला कर दिया। हमले में हरबीर सिंह के आंख और शरीर में कई जगह चोट आई हैं। अपर मेलाधिकारी को बचाने गए उनके सुरक्षा कर्मी की भी पिटाई कर दी। पिटाई से सुरक्षा कर्मी बेहोश होकर गिर गया। चालक को भी दौड़ा दिया।

घटना के बाद मेला और जिला पुलिस प्रशासन के अधिकारी पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और अपर मेलाधिकारी को सुरक्षित बहार निकाला। मारपीट करने वाले संतों की शिनाख्त की जा रही है। जानकारी के मुताबिक बृहस्पतिवार रात को कनखल थाना क्षेत्र के बैरागी कैंप में अपर मेलाधिकारी हरबीर सिंह की अखिल भारतीय निर्मोही अणी अखाड़ा में संतों के साथ बैठक होनी थी। हरबीर सिंह करीब आठ बजे कैंप पहुंचे। वहां पहले से ही अखाड़ा के कई संत मौजूद थे। कैंप में बिजली नहीं होने से बैरागियों का पारा चढ़ गया। बैरागियों ने उनके साथ भेदभाव का आरोप लगाते हुए हरबीर सिंह की घेराबंदी कर पिटाई शुरू कर दी।

सुरक्षा कर्मी पीआरडी के जवान पनीराम बचाव करने लगे तो उनकी भी पिटाई कर दी। बताया जाता है कि उन्हें दौरा पड़ा और बेहोश होकर गिर गया। हरबीर सिंह के चालक ने तत्काल सूचना अधिकारियों को दी। इसके बाद आईजी कुंभ संजय गुंज्याल, एसएसपी कुंभ जन्मेजय खंडड़ी, एसएसपी हरिद्वार सेंथिल अबूदई कृष्णराज एस समेत कई अधिकारी पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे।

इसके बाद आईजी कुंभ संजय गुंज्याल ने संतों से बातचीत की और हरबीर सिंह को वहां से बाहर निकाला। आईजी कुंभ संजय गुंज्याल ने बताया कि अपर मेलाधिकारी हरबीर सिंह की आंख और शरीर में कई जगह पर चोट लगी है। उन्होंने कहा कि धर्मध्वजा की पीछे से किसी ने अपर मेलाधिकारी हरबीर सिंह को धक्का दे दिया। अपर मेलाधिकारी के चश्मे का ग्लास टूट कर उन्हें लग गया। इसकी जांच की जा रही है। उन्होंने बताया कि मारपीट करने वाले संतों को चिह्नित किया जा रहा है।

वहीं, अपर मेलाधिकारी हरबीर सिंह के साथ मारपीट की घटना की अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने कड़ी निंदा की है। परिषद के अध्यक्ष श्रीमहंत नरेंद्र गिरि ने घटना की जांच के लिए एक कमेटी गठित कर दी है। कमेटी एक हफ्ते में रिपोर्ट और इसके बाद आरोपी संतों के खिलाफ कार्रवाई होगी।  श्रीमहंत नरेंद्र गिरि ने कहा कि निर्मोही अखाड़ा के संतों की ओर से अपर मेलाधिकारी के साथ मारपीट और अभद्रता की जानकारी मिली है।

कुंभ मेला प्रभारी, पंचायती अखाड़ा श्री निरंजनी के महंत रविंद्रपुरी ने कहा कि देशभर से संत और श्रद्धालु कुंभनगरी में अमृत स्नान के लिए पहुंच रहे है। अपर मेलाधिकारी के साथ हाथापाई की घटना से उत्तराखंड की छवि खराब हुई है। मेरी सरकार और पुलिस से मांग है कि आरोपियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई होनी चाहिए।

From around the web