मैं एक साधारण उत्तराखंडी हूं, मेरा लक्ष्य देवभूमि का विकास: हरीश रावत

हरदा ने कहा कि मैं तो भृगु ऋषि के तरीके से तपस्यालीन उत्तराखंडी हूं, मुझे तपस्यालीन विश्वामित्र के तरीके से विचलित नहीं किया जा सकता। भाजपा के शीर्ष नेताओं का गरजना, बरसना मुझे मेरी तपस्या से विचलित नहीं कर सकता है।
 
HARISH

 

देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) उत्तराखंड में आगामी विधानसभा चुनाव से पहले पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष हरीश रावत ने एक बार फिर से अमित शाह पर पलटवार किया है।

हरदा ने कहा कि कल अमित शाह जी, मुझ पर बहुत गरजे और मैं जानता हूं कि, और लोग भी गरजेंगे और बरसेंगे। मगर मैं उनसे से एक बात साफ तौर पर कह देना चाहता हूं कि मेरा चुनावी मुकाबला उनसे नहीं है, वो मेरी तुलना में बड़े ऊंचे पायदान पर हैं, मैं तो एक साधारण उत्तराखंडी हूं, जिसका लक्ष्य राज्य का विकास और आम उत्तराखंडी का कल्याण हो, उसकी तरक्की है, उसे एक अच्छी जिंदगी जीने का अवसर मिले उसके लिए काम करना है।

हरदा ने कहा कि मैं तो भृगु ऋषि के तरीके से तपस्यालीन उत्तराखंडी हूं, मुझे तपस्यालीन विश्वामित्र के तरीके से विचलित नहीं किया जा सकता। भाजपा के शीर्ष नेताओं का गरजना, बरसना मुझे मेरी तपस्या से विचलित नहीं कर सकता है। मैं इस गरजने-बरसने के पीछे छुपे हुये अभिप्राय को बहुत गहराई से समझता हूं, इसलिये मैं अपने लक्ष्य से इतर नहीं देखूंगा, न चलूंगा। मेरा लक्ष्य सिर्फ, सिर्फ-सिर्फ उत्तराखंडियत के झंडे को ऊंचा उठाना है। "जय हिंद, जय उत्तराखंड-जय उत्तराखंडियत"

From around the web