उत्तराखंड में कुदरत का कहर, घर पर गिरा विशालकाय पेड़, महिला और बच्चे की मौत, 7 घायल

उत्तराखंड में इन दिनों कुदरत कहर बरपा रही है। गुरुवार को अधिकतर इलाकों में बदरा जमकर बरसे। वहीं आज भी प्रदेश के ज्यादातर हिस्सों में मौसम खराब बना हुआ है। देहरादून, हरिद्वार और रुड़की में सुबह से रुक-रुक कर बारिश हो रही है। 
 
0000

बागेश्वर (उत्तराखंड पोस्ट) उत्तराखंड में इन दिनों कुदरत कहर बरपा रही है। गुरुवार को अधिकतर इलाकों में बदरा जमकर बरसे। वहीं आज भी प्रदेश के ज्यादातर हिस्सों में मौसम खराब बना हुआ है। देहरादून, हरिद्वार और रुड़की में सुबह से रुक-रुक कर बारिश हो रही है। 

इस बीच बड़ी खबर सामने आयी है। बागेश्वर से एक दर्दनाक हादसे की खबर मिली है। गुनकोट गांव में कुदरात ने कहर बरपाया है। यहां एक ग्रामीण के मकान में विशालकाय तुन का पेड़ गिरने से एक ही परिवार के दो लोगों की मौके पर ही मौत हो गई है। जबकि सात लोग घायल हो गए हैं। जिला प्रशासन की टीम राहत कार्य के लिए मौके पर पहुंच गई है।

जानकारी के मुताबिक शुक्रवार की तड़के करीब दो बजे बागेश्वर के गुनकोट गांव में ग्रामीण के मकान के ऊपर विशाल काय तुन का पेड़ गिर गया। घटना से क्षेत्र में हड़कंप मच गया। गांव वालों द्वारा जिला प्रशासन को मामले की सूचना देते हुये बचाव कार्य शुरू किया। लेकिन तब तक गीता देवी(46 वर्ष) पत्नी कैलाश राम और आदित्य राम(10 वर्ष ) पुत्र गणेश राम की मौके पर ही मौत हो गई है। जबकि कैलाश राम पुत्र मोहन राम 54 वर्ष, पूरन राम पुत्र कैलाश राम 31 वर्ष, मनोज कुमार 20 वर्ष, निर्मला देवी 35 वर्ष, रेनू 26 वर्ष, मोहन राम 80 वर्ष और मनोज कुमार घायल हो गए हैं।

मौके पर पहुंची जिला प्रशासन की टीम द्वारा घायलों को उपचार हेतु अस्पताल पहुंचाया जा रहा है। जिला आपदा अधिकारी शिखा सुयाल ने बताया कि घटना रात दो बजे की है। बचाव दल मौके पर पहुच गया है।

From around the web