बड़ी खबर | उत्तराखंड में लॉकडाउन पर फैसला आज ! CM और मंत्रियों के बीच होगी बातचीत

उत्तराखंड में कोरोना का कहर बढ़ता जा रहा है। प्रदेश में एक बार फिर कोरोना का बड़ा विस्फोट हुआ है। बीते 24 घंटे में प्रदेश में कोरोना के 7028 मामले सामने आए। इसी के साथ प्रदेश में कुल मरीजों की संख्या 204051 पहुंच गई है। वहीं 85 संक्रमित मरीजों की 24 घंटे में कोरोना से मौत हुई।
 
67789
देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) उत्तराखंड में कोरोना का कहर बढ़ता जा रहा है। प्रदेश में एक बार फिर कोरोना का बड़ा विस्फोट हुआ है। बीते 24 घंटे में प्रदेश में कोरोना के 7028 मामले सामने आए। इसी के साथ प्रदेश में कुल मरीजों की संख्या 204051 पहुंच गई है। वहीं 85 संक्रमित मरीजों की 24 घंटे में कोरोना से मौत हुई।

इस बीच बड़ी खबर सामने आयी है। कोरोना के बढ़ते प्रभाव के बीच तीरथ सरकार बुधवार को लॉकडाउन पर फैसला ले सकती है। बता दें कि कुछ समय से तीरथ सरकार के ही कई मंत्री लॉकडाउन लगाने के पक्ष में हैं। अब बुधवार को इन मंत्रियों की ओर से मुख्यमंत्री से बात की जाएगी। वन मंत्री हरक सिंह का कहना है कि प्रदेश में हालात सुधर नहीं रहे हैं। कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए अब सख्त कदम उठाए जाने चाहिए। हरक सिंह का समर्थन कई और मंत्री भी कर रहे हैं। 

शासकीय प्रवक्ता सुबोध उनियाल के मुताबिक बुधवार को इस मामले को लेकर बैठक बुलाई गई है। बैठक में मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत और अन्य मंत्री भी शामिल होंगे। प्रदेश की स्थिति को देखते हुए फैसला किया जाएगा।

प्रदेश में लगातार बढ़ते जा रहे कोरोना संक्रमण के बीच अब कई कर्मचारी संगठन 15 दिन के सख्त लॉकडाउन के पक्ष में खड़े हो गए हैं। मंगलवार को भी तीन संगठनों ने इस संबंध में मुख्यमंत्री के सामने मांगें रखीं। सभी का कहना था कि इस मुश्किल वक्त में कोरोना चेन को तोड़ने के लिए लॉकडाउन की भारी दरकार है।

बता दें कि केंद्र सरकार ने पूरे राज्य में लॉकडाउन की पैरवी तो नहीं की, लेकिन राज्यों से कहा है कि वे 10 फीसदी से अधिक संक्रमण दर वाले जिलों में लॉकडाउन पर विचार कर सकते हैं। प्रदेश में अधिकतर जिलों में संक्रमण दर 10 फीसदी से अधिक ही है। कोविड कर्फ्यू के बाद भी कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए प्रदेश सरकार अब सख्त फैसला करने को विवश हो सकती है।

From around the web