Uttrakhandpost 12 banner 1
Utkarshexpress 1234 banner 2

उत्तराखंड से बड़ी और चिंताजनक ख़बर, चमोली जिले में ग्लेशियर टूटा

चमोली जिले में ग्लेशियर किस जगह पर फटा है इसकी जानकारी फिलहाल नहीं मिल पाई है। हालांकि बार्डर रोड टास्क फोर्स के कमांडर कर्नल मनीष कपिल ने ग्लेशियर टूटने की खबर की पुष्टि की है।
 
उत्तराखंड से बड़ी और चिंताजनक ख़बर, चमोली जिले में ग्लेशियर टूटा

देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) उत्तराखंड से बड़ी और चिंताजनक खबर सामने आ रही है। खबर है कि चमोली जिले में जोशीमठ के पास भारत-चीन बार्डर के करीब एक ग्लेशियर टूटा है।

दरअसल भारत-चीन सीमा को जोड़ने वाली सड़क पर सुमना 2 में ग्लेशियर टूटने की सूचना मिली है। फिलहाल बताया जा रहा है कि भारी बर्फबारी की वजह से ये ग्लेशियर टूटा है। ग्लेशियर टूटने के बाद से ही संपर्क कट चुका है। खबर है कि यहां मजदूर सड़क कटिंग के कार्य में रहते हैं। बीआरओ के अधिकारी लगातार संपर्क करने की कोशिश कर रहे हैं,लेकिन अभी तक सफलता नहीं मिली है। कई जगहों पर बर्फबारी की वजह से सड़क बंद हो गई है, ऐसे में वहां तक पहुंचना भी बड़ी मुश्किल है।

चमोली पुलिस ने जानकारी देते हुए कहा- भारत चीन सीमा पर सुमना के पास ग्लेशियर टूटने की सूचना सोशल मीडिया  पर वायरल हो रही है। इस संबंध मे बीआरओ कमांडर ने बताया कि ग्लेशियर टूटने की सूचना उन्हें भी प्राप्त हुई है। जानकरी जुटाई जा रही है कि यह घटना किस जगह पर हुई है।खराब मौसम के कारण दूरभाष से भी संपर्क नही हो पा रहा है।टीमों को स्थिति का जायज़ा लेने के लिए रवाना कर दिया गया है।जब तक आधिकारिक पुष्टि नही हो जाती है धैर्य व संयम बनाये रखें व अफवाह फैलाने से बचें।

खबर ये भी है कि ग्लेशियर टूटने के बाद से रैणी में ऋषिंगगा नदी का स्तर काफी ज्यादा बढ़ गया है, हालांकि अभी तक जान-माल की हानी की कोई खबर नहीं मिली है। आपको बता दें कि ऊंचाई वाले इलाकों में पिछले कुछ दिनों से भारी बर्फबारी हो रही है। स्थिति का जायजा स्थानीय एजेंसीज के द्वारा लिया जा रहा है।

आपको बता दें कि 7 फरवरी को चमोली ग्लेशियर टूटने की घटना सामने आई थी। उस घटना के बाद 205 लोग लापता बताए गए, वहीं 79 ने अपनी जान गंवा दी थी। उस त्रासदी से लोग अभी उभरे भी नहीं थे कि अब एक और घटना ने सभी को डरा दिया है।

From around the web