हरिद्वार | कोविड अस्पताल में घुसा बारिश का पानी, कुछ दिन पहले हुआ था उद्घाटन

आपको बता दें कि इस अस्थाई बेस अस्पताल को कुंभ मेले के लिए बनाया गया था लेकिन कुंभ मेले के बाद अस्पताल को कोविड मरीजों के इलाज के लिए रिजर्व कर दिया गया है। अस्पताल का संचालन राज्य सरकार और बाबा रामदेव की पतंजलि योगपीठ संयुक्त रूप से कर रहे हैं।
 
Water
 

हरिद्वार (उत्तराखंड पोस्ट) उत्तराखंड के कई इलाकों में गुरुवार को जमकर बदरा बरसे। हरिद्वार में तो बारिश इतनी तेज थी कि 150 बेड के कोविड केयर सेंटर में बारिश का पानी भर गया।

आपको बता दें कि इस अस्थाई बेस अस्पताल को कुंभ मेले के लिए बनाया गया था लेकिन कुंभ मेले के बाद अस्पताल को कोविड मरीजों के इलाज के लिए रिजर्व कर दिया गया है। अस्पताल का संचालन राज्य सरकार और बाबा रामदेव की पतंजलि योगपीठ संयुक्त रूप से कर रहे हैं।

कुछ दिन पहले ही इस अस्पताल का उद्घाटन मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत और बाबा रामदेव ने किया था। मंगलवार और बुधवार को लगातार हुई बारिश का पानी अस्पताल में अंदर तक घुस गया। जब इसकी तस्वीरें सामने आईं, तब पता चला कि मरीजों के वॉर्ड तक भी पानी पहुंच गया है. बाद में अस्पताल के स्टाफ को ही पानी निकालने के लिए मशक्कत करनी पड़ी।

बेस अस्पताल के नोडल अधिकारी दयानंद सरस्वती का कहना है कि अस्पताल के पास से एक बड़ा नाला बहता है। बारिश के पानी से नाला चोक हो जाने के कारण अस्पताल परिसर में पानी आ गया था। किसी भी पेशेंट को शिफ्ट करने की नौबत नहीं आई है।

From around the web