उत्तराखंड | 65 कोरोना मरीजों की हो गयी मौत, अस्पताल ने छिपाई जानकारी, 19 दिन बाद हुआ खुलासा

उत्तराखंड में कोरोना तेजी से पैर पसार रहा है। प्रदेश में कोरोना के कुल मामलों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। प्रदेश में एक बार फिर कोरोना का बहुत बड़ा विस्फोट हुआ है।
 
उत्तराखंड | 65 कोरोना मरीजों की हो गयी मौत, अस्पताल ने छिपाई जानकारी, 19 दिन बाद हुआ खुलासा

हरिद्वार (उत्तराखंड पोस्ट) उत्तराखंड में कोरोना तेजी से पैर पसार रहा है। प्रदेश में कोरोना के कुल मामलों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। प्रदेश में एक बार फिर कोरोना का बहुत बड़ा विस्फोट हुआ है।

शुक्रवार को प्रदेश भर में कोरोना के 5775 मामले सामने आए। इसी के साथ प्रदेश में कुल मरीजों की संख्या 277585 पहुंच गई है। वहीं 116 संक्रमित मरीजों की 24 घंटे में कोरोना से मौत हुई। 

इस बीच हरिद्वार जिले से सनसनीखेज खबर सामने आयी है। यहां एक निजी अस्पताल ने कोरोना मरीजों की मौत की जानकारी छिपाए रखी। 19 दिनों के बाद अस्पताल में 65 मरीजों की मौत का खुलासा हुआ है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से इस मामले को गंभीरता से लिया जा रहा है। 

जानकारी के मुताबिक घटना हरिद्वार स्थित बाबा बर्फानी हॉस्पिटल की है। अस्पताल प्रशासन ने कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत की सूचना स्वास्थ्य विभाग को नहीं दी है। बताया गया कि बाबा बर्फानी हॉस्पिटल में 25 अप्रैल से 12 मई तक उपचार के दौरान 65 कोरोना मरीजों की मौत हुई थी। लेकिन अस्पताल प्रशासन की ओर से इसकी सूचना राज्य कोविड कंट्रोल रूम को नहीं दी गई।

राज्य कोविड कंट्रोल रूम के चीफ आपरेटिंग आफिसर डॉ. अभिषेक त्रिपाठी का कहना है कि कोरोना मरीजों की मौत की सूचना समय पर न देने के मामले को गंभीरता से लिया जा रहा है। जांच के बाद मरीजों की मौत की जानकारी सामने आई।

बता दें कि सरकार की ओर से पूर्व में भी कोरोना का इलाज कर रहे अस्पतालों को निर्देश दिए गए कि कोरोना मरीजों की मौत की सूचना 24 घंटे के भीतर राज्य कोविड कंट्रोल रूम को दें।

From around the web