उत्तराखंड | ससुरालियों ने विवाहिता को बंधक बनाकर डाला तेजाब, 6 के खिलाफ मुकदमा

उत्तराखंड की धर्मनगरी हरिद्वार से एक शर्मनाक खबर सामने आय़ी है। रुड़की के मंगलौर में दहेज की मांग पूरी नहीं होने पर ससुरालियों ने विवाहिता को बंधक बनाकर उसके ऊपर तेजाब डाल दिया। तेजाब के हमले में विवाहिता का हाथ बुरी तरह झुलस गया।
 
sasural



रुड़की (उत्तराखंड पोस्ट)
उत्तराखंड की धर्मनगरी हरिद्वार से एक शर्मनाक खबर सामने आय़ी है। रुड़की के मंगलौर में दहेज की मांग पूरी नहीं होने पर ससुरालियों ने विवाहिता को बंधक बनाकर उसके ऊपर तेजाब डाल दिया। तेजाब के हमले में विवाहिता का हाथ बुरी तरह झुलस गया।

इतना ही नही सूचना पर पहुंचे मायके पक्ष के लोगों से भी ससुरालियों ने मारपीट की। किसी तरह उन्होंने विवाहिता को आरोपियों के चंगुल से मुक्त कराने के बाद पुलिस को तहरीर दी। पुलिस ने ससुराल पक्ष के छह लोगों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में केस दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।

जानकारी के अनुसार कोतवाली क्षेत्र के टांडा भनेड़ा गांव निवासी मोहम्मद अलीम ने पुलिस को तहरीर देकर बताया कि उन्होंने अपनी बहन अमरीन की शादी मार्च 2020 में गढ़ी देवबंद निवासी शाहिद के साथ की थी। शादी में अपनी हैसियत से अधिक दान-दहेज दिया था, लेकिन ससुराल पक्ष के लोग दहेज से खुश नहीं थे और कुछ दिनों बाद ही बहन का शारीरिक व मानसिक उत्पीड़न करने लगे।

इस बीच ससुरालियों ने उनसे चार बार में सवा दो लाख रुपये और ले लिए। इसके बाद भी वे दहेज में पांच लाख रुपये की मांग करने लगे। विरोध करने पर उनकी बहन के साथ मारपीट और गालीगलौज करने लगे। तंग आकर विवाहिता मायके चली आई। कुछ दिन बाद पंचायत बुलाई गई, जिसमें ससुरालियों ने माफी मांगी और विवाहिता को ले जाने की बात कही। विवाहिता को बंधक बनाकर रखा गया था। पंचायत ने उन्हें भविष्य में दहेज की मांग नहीं करने की चेतावनी देते हुए विवाहिता को ससुराल भेज दिया।

तीन अक्तूबर की रात करीब आठ बजे गांव के किसी व्यक्ति ने मायके पक्ष को सूचना दी कि विवाहिता को ससुरालियों ने बंधक बनाकर रखा है और हत्या की साजिश रच रहे हैं। मायके पक्ष के लोग ससुराल में पहुंचे तो विवाहिता को बंधक बनाकर रखा गया था। साथ ही उसके मुंह पर तेजाब डालने की कोशिश की गई, विवाहिता ने हाथ आगे कर दिया। इससे उसका हाथ बुरी तरह जल गया। विरोध करने पर मायके वालों से भी मारपीट की गई। किसी तरह उन्होंने विवाहिता को मुक्त कराया और पुलिस को तहरीर दी।

कोतवाली प्रभारी प्रवीण कोश्यारी ने बताया कि पति शाहिद, ससुर साजिद, सास शाहीन, देवर मुफीद, मुजीबउर रहमान और ननद नाहिद के खिलाफ मारपीट, गालीगलौज, दहेज उत्पीड़न और तेजाब डालने की धाराओं में केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

From around the web