नैनीताल | गांव जाने से पहले जरूर पढ़ ले ये खबर, यह आदेश हुआ जारी

उत्तराखंड में कोरोना तेजी से पैर पसार रहा है। प्रदेश में कोरोना के कुल मामलों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। प्रदेश में एक बार फिर कोरोना का बहुत बड़ा विस्फोट हुआ है।
 
नैनीताल | गांव जाने से पहले जरूर पढ़ ले ये खबर, यह आदेश हुआ जारी

हल्द्वानी (उत्तराखंड पोस्ट) उत्तराखंड में कोरोना तेजी से पैर पसार रहा है। प्रदेश में कोरोना के कुल मामलों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। प्रदेश में एक बार फिर कोरोना का बहुत बड़ा विस्फोट हुआ है।

कोरोना काल में अपने गांव आना चाहते है तो इस खबर को जरूर पढ़े। दरअसल, नैनीताल जिला प्रशासन ने बड़ा कदम उठाया है। जिले में बाहरी राज्यों से अपने पैतृक गांव वापस आ रहे प्रवासियों को कोविड-19 के संक्रमण के रोकथाम के लिए ग्राम पंचायत/ ग्राम प्रधान की निगरानी में गांव में स्थापित विलेज क्वांरटीन  फैसिलिटी में अनिवार्य रूप से 7 दिवसों तक आईसोलेशन में रहना होगा।

आईसोलेशन अवधि पूर्ण होने के उपरान्त कोविड-19 के लक्षण परिलक्षित न होने पर अपने घर में जा सकते है। यह निर्देश इसीडेंट कमांडर/मुख्य विकास अधिकारी श्री नरेन्द्र सिंह भण्डारी ने जारी किये है।

उन्होने कहा कि विलेज क्वारंटीन फैसिलिटी संचालन (पेयजल व्यवस्था, साफ-सफाई, विद्युत व्यवस्था, बिस्तर आदि) पर आने वाले व्यय का भुगतान ग्राम पंचायत को राज्य वित्त कमिशन से प्राप्त निधि से वहन किया जायेगा तथा इसके अतिरिक्त आवश्यकता होने पर जिलाधिकारी द्वारा राज्य आपदा मोचन निधि  एंव सीएमआरएफ से विलेज क्वांरटीन फैसिलिटि में होने वाले व्यय ग्राम पंचायत को प्रदान किया जायेगा।

भण्डारी ने मुख्य शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिये कि वे ग्राम पंचायत में आने वाले प्रवासियों को क्वारंटीन करने हेतु क्वारंटीन सेन्टरों में शिक्षकों की डयूटी लगाने के साथ ही जिला पंचायत राज अधिकारी को आवश्यक व्यवस्थाएं कराने व समस्त खण्ड विकास अधिकारी एंव बीआरटी को सक्रियता से कार्य करने के निर्देश दिये।

From around the web