उत्तराखंड की बेटी को सलाम, नैनीताल की नैनिका रौतेला बनी सेना में अफसर

देवभूमी उत्तराखंड ने देश को बहुत से वीर सैनिक दिए है। देश की रक्षा के लिए उत्तराखंड के जवान हमेशा आगे रहते है। अब उत्तराखंड का गौरव और बढ़ गया है क्योंकि देवभूमी की बेटियां भी अब सेना में शामिल हो रही है।
 
0000

नैनीताल (उत्तराखंड पोस्ट) देवभूमी उत्तराखंड ने देश को बहुत से वीर सैनिक दिए है। देश की रक्षा के लिए उत्तराखंड के जवान हमेशा आगे रहते है। अब उत्तराखंड का गौरव और बढ़ गया है क्योंकि देवभूमी की बेटियां भी अब सेना में शामिल हो रही है।

आज अपने उत्तराखंड वासियों के लिए गर्व का दिन है। नैनीताल की नैनिका रौतेला भारतीय सेना में अफसर बनी हैं। नैनिका रौतेला का चयन भारतीय नौसेना में सब लेफ्टिनेंट के पद हुआ है। शुक्रवार को परिणाम घोषित हुए।

नैनिका रौतेला ने कक्षा 6 तक की पढ़ाई मोहन लाल साह बाल विद्या मंदिर से की और इंटर उन्होंने सेंट मेरी कॉलेज से किया। स्कूल के बाद उन्होंने इंजीनियरिंग के लिए कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग रुड़की में दाखिला लिया। बचपन से होनहार नैनिका मौजूदा वक्त में एक्सेंचर गुड़गांव में गूगल के लिये बतौर इंजीनियर कार्यरत हैं।

बता दें कि नैनिका के पिता रामसिंह रौतेला नैनीताल जिला अदालत व उत्तराखंड हाईकोर्ट में अधिवक्ता हैं, वहीं मां डॉ बसन्ती रौतेला मोहनलाल साह इंटर कॉलेज में प्रवक्ता हैं। छोटा भाई हर्ष रौतेला लॉ कॉलेज देहरादून से बीबीए एलएलबी कर रहा है।

बेटी की सफलता देख पिता का सीना गर्व से चौड़ा हो गया है। क्योंकि पिता का कहना है कि उनका सपना था कि वह सेना में भर्ती हो लेकिन वह सपने को पूरा नहीं कर पाए लेकिन उनकी बेटी ने उस सपने को पूरा कर दिखाया है जिससे उनको बेटी पर गर्व है।

From around the web