उत्तराखंड | अस्पताल में अव्यवस्थाओं पर चढ़ा कैबिनेट मंत्री भगत का पारा, देखिए वीडियो

शहरी विकास एवं कोविड-19 प्रभारी मंत्री बंशीधर भगत ने क्षेत्रीय विधायक दीवान सिंह बिष्ट के साथ रामनगर चिकित्सालय का निरीक्षण किया। उन्होने पीपीपी मोड पर संचालित रामनगर चिकित्सालय की व्यवस्थाओं पर नाराजगी व्यक्त करते हुए व्यवस्थाएं शीघ्र चुस्त दुरूस्थ करने के निर्देश चिकित्सालय प्रबन्धक को दिये।
 
उत्तराखंड | अस्पताल में अव्यवस्थाओं पर चढ़ा कैबिनेट मंत्री भगत का पारा, देखिए वीडियो

रामनगर (उत्तराखंड पोस्ट) शहरी विकास एवं कोविड-19 प्रभारी मंत्री बंशीधर भगत ने क्षेत्रीय विधायक दीवान सिंह बिष्ट के साथ रामनगर चिकित्सालय का निरीक्षण किया। उन्होने पीपीपी मोड पर संचालित रामनगर चिकित्सालय की व्यवस्थाओं पर नाराजगी व्यक्त करते हुए व्यवस्थाएं शीघ्र चुस्त दुरूस्थ करने के निर्देश चिकित्सालय प्रबन्धक को दिये।


 

बताते चले की रामनगर के सरकारी चिकित्सालय में मरीजो को बेहतर सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए प्रदेश सरकार द्वारा इसे पीपीपी मोड पर दिया गया है। पीपीपी मोड पर दिये जाने के बाद भी मरीजो एंव क्षेत्रवासियो द्वारा उचित स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ न मिलने शिकायत करते हुए भगत कहा कि चिकित्सालय में उचित स्वास्थ्य सुविधाएं न मिलने के कारण मरीजों को प्राइवेट चिकित्सालयों में मंहगे दामों पर उपचार कराने हेतु मजबूर होना पडता है। जिस पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कैबिनेट मंत्री भगत ने चिकित्सालय में स्वास्थ्य व्यवस्थाओं ठीक करते हुए मरीजों को उचित ईलाज मोहय्या करने के निर्देश चिकित्सा प्रबन्धक को दिये।
 

भगत ने चिकित्सालय में ब्लड बैंक शुरू करने की स्वीकृति 2007 में मिल जाने व तीन माह पूर्व लाईसेन्स स्वीकृत के उपरान्त भी अभी तक ब्लड बैंक शुरू न होने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए एक सप्ताह में ब्लड बैंक शुरू करने के निर्देश मौके पर दिये। उन्होने चिकित्सालय प्रबन्धक को मरीजो का सिटी स्कैन भी कराने के निर्देश भी दिये साथ ही कहा मरीजों का सिटी स्कैन न करने पर कार्यवाही भी अमल में लाई जायेगी।

 

भगत ने कहा कि कोविड के संक्रमण को देखते हुए रामगनर संयुक्त चिकित्सालय को शीघ्र ही 100 बेड का कोविड चिकित्सालय बनाने की कार्यवाही गतिमान है शीघ्र ही सरकार द्वारा इसकी स्वीकृत दे दी जायेगी। चिकित्सालय में आॅक्सीजन पाइप लाईन बिछाने का कार्य प्रगति पर है जो शीघ्र ही पूर्ण कर लिया जायेगा। उन्होने कहा कि सरकार जनता की स्वास्थ्य के प्रति बेहद संजीदा है क्षेत्रवासियों को स्वास्थ्य उपचार देना सरकार की प्राथमिकता है चिकित्सालय में आने वाले मारजों को उचित उपचार दिया जायेगा। उन्होेने कहा कि रामनगर चिकित्सालय को कोविड चिकित्सायल घोषित करने के उपरान्त जरूरत के अनुसार ओपीडी अनियत्र शिफ्ट करके मरीजों का उपचार किया जायेगा। इसके उपरान्त मंत्री ने आॅर्चिड होटल में संचालित कोविड वैक्सीनेशन सेन्टर का मौका मुआयना किया। उन्होने सभी लोगो से कोविड वैक्सीन लगाने की अपील की। उन्होंने कहा कि जिले के दूरस्थ ग्रामीण क्षेत्रों में कोविड टेस्टिंग कराने के साथ ही वैक्सीनेशन कैम्प भी लगाये जायेगे।

 

रामनगर विधायक दीवान सिंह बिष्ट ने कहा कि सरकार जनता की स्वास्थ्य के प्रति गम्भीर है सभी को स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराना सरकार की प्राथमिकता है। उन्होंने कहा जनता कोविड के प्रति जागरूक रहें किसी प्रकार के लक्षण होने पर तुरन्त चिकित्सकों की सलाह ले तथा टेस्ट कराये। उन्होंने कहा कोविड संक्रमण का दौर चल रहा है सभी कोविड वैक्सीन लगाये।

 

निरीक्षण दौरान उपजिलाधिकारी विजय नाथ शुक्ल, नोडल अधिकारी डाॅ. प्रशान्त कौशिक, जोनल मजिस्ट्रेट केसी उनियाल, पुलिस क्षेत्राधिकारी बीएस भाकुनी, भावना भट्ट, विरेन्द्र रावत, इन्दर रावत, भूपेन्द्र खाती, अशोक गुप्ता, मंयक तिवारी आदि मौजूद थे।   

From around the web