उत्तराखंड |  2 साल के मासूम को निवाला बनाने वाला गुलदार पिंजरे में हुआ कैद

 
nnn
 

नैनीताल (उत्तराखंड पोस्ट) नैनीताल के ज्योलीकोट क्षेत्र में चोपड़ा गांव में एक दो वर्षीय बच्चे मौत के घाट उतारने वाला खूंखार गुलदार को पिंजरे में कैद कर लिया गया है। फारेस्ट टीम द्वारा गुलदार को रानीबाग रैस्क्यू सेंटर लेकर लाया जाएगा।

नेपाली मजदूर भानू राणा तथा मीना राणा अपने दो छोटे बच्चों के साथ चोपड़ा क्षेत्र के मटियाली गांव में रहते हैं। शुक्रवार देर शाम उनका चार वर्षीय बेटा पीयूष व दो वर्षीय राघव आंगन में खेल रहे थे। इसी बीच राघव अचानक गायब हो गया था।

परिजनों को ग्रामीणों ने गुलदार की मूमेंट के बारे में बताया तो आशंका जताई गई थी की बच्चे को गुलदार उठाकर ले गया होगा। इसके बाद बच्चे को खोजा गया लेकिन रात को वह नहीं मिला।

 

भानु राणा और पत्नी मीना राणा अपने बेटे राघव को लेकर काफी चिंतिंत थे। शनिवार सवेरे तलाश के दौरान राघव का श्रत विक्षत शव घर से लगभग डेढ़ किलोमीटर दूर से बरामद हो गया । दोपहर में वन विभाग ने जंगल के उस हिस्से में पिंजरा लगा दिया जिसमें रात होते होते एक गुलदार फंस गया । विभाग के आर.ओ.भोपाल सिंह मेहता ने बताया कि गुलदार को परीक्षण के लिए रानीबाग रैस्क्यू सेंटर ले जाया जाएगा। वहीं घटना के बाद राघव के घर पर कोहराम मचा हुआ है।

From around the web