अब एक मरीज के लिए ‘प्रभु’ बने रेल मंत्री

VBK-17-SURESH_PRAB_2280752fसोशल नेटवर्किंग साइट भारतीय रेल में सफऱ करने वालों के लिए किसी वरदान से कम नहीं है। खासकर ट्विटर पर भारतीय रेल और रेल मंत्री सुरेश प्रभु की यात्रियों के लिए सक्रियता रोज एक नई कहानी गढ़ रही है। इस बार ये वरदान बना जलपाईगुड़ी के एक बीमार यात्री के लिए। ट्विटर पर अनुरोध के बाद रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने तुरंत कार्रवाई करते हुए जलपाईगुड़ी से नई दिल्ली के सफर के लिए इस बीमार यात्री की डिब्रूगढ़ राजधानी ट्रेन का टिकट दिलाने में मदद की। एक रेल अधिकारी ने बताया कि रमेश कुमार को आपात चिकित्सीय सहायता के लिए एम्स के ट्रॉमा सेंटर आना था लेकिन उन्हें डिब्रूगढ़ राजधानी में कंफर्म्ड टिकट नहीं मिली। इसके बाद ‘उदय फाउंडेशन’ नाम के एक गैर सरकारी संगठन ने ट्विटर के माध्यम से रेल मंत्री से संपर्क किया और कुमार के सफर की तत्काल व्यवस्था के लिए उनकी मदद मांगी। एनजीओ ने कुमार की टिकट संख्या और संपर्क संबंधी ब्यौरे देते हुए गत तीन फरवरी को ट्विटर पर लिखा, ‘कृपया मदद कीजिए, इस मरीज को दिल्ली में आपात चिकित्सीय उपचार की जरूरत है।’ एनजीओ ने इस ट्वीट को रेल मंत्री और रेल मंत्रालय के ट्विटर खातों से टैग कर दिया।

रेल मंत्री ने मैसेज देखने के बाद संबंधित अधिकारियों को मरीज के सफर के लिए जरूरी व्यवस्था करने के निर्देश दिए। उत्तर रेलवे के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘उसका टिकट कंफर्म्ड हो गया और उसने कल जलपाईगुड़ी स्टेशल पर ट्रेन पकड़ ली। उसे व्हील चेयर उपलब्ध कराया गया और नई दिल्ली तक पूरे सफर में हर तरह की मदद दी गयी।’ शुक्रवार सुबह ट्रेन के नई दिल्ली स्टेशन पहुंचने के साथ उत्तर रेलवे के अधिकारियों ने कुमार को एंबुलेंस तक ले जाने के लिए एक बैट्री संचालित वाहन और एक व्हील चेयर की भी व्यवस्था की।