रूड़की में मदरसा इमदादुल इस्लाम के छात्रों पर सोशल मीडिया व मोबाइल पर रोक

830

 

CZiOMPhUYAE89-Gरुड़की से चार संदिग्‍ध आतंकियों के पकड़े जाने के बाद अरबी मदरसे के नाजिम ने छात्रों के मोबाइल फोन रखने पर पूरी तरह पाबंदी लगा दी है। साथ ही सोशल मीडिया जैसे फेसबुक के इस्तेमाल पर भी पाबंदी लगाने का फरमान सुनाया है। रुड़की के लंढौरा स्थित मदरसा इमदादुल इस्लाम के नाजिम मौलाना नवाब अली ने रूड़की से चार संदिग्‍ध आतंकियों के पकड़े जाने के बाद ये फैसला सुनाया है। मौलाना का कहना है की संदिग्‍ध आतंकियों के पकड़े जाने से पूरा इलाका शर्मिंदगी महसूस कर रहा है और इलाके में लोग सहमे हुए हैं। ऐसे में मुस्लिम बच्चों से मोबाइल फोन पर फेसबुक और ट्विटर जैसी सोशल मीडिया साइट्स के इस्तेमाल पर रोक लगाया जाना जरूरी हो गया था। जिससे कि इनका गलत इस्तेमाल न हो सके। मौलाना नवाब का तर्क है कि मोबाइल से बच्चों की पढ़ाई पर असर पड़ रहा है, साथ ही उनके राह से भटकने का भी अंदेशा बना रहता है। यदि कोई बच्चा देश-दुनिया की जानकारी चाहता है तो वह उस्तादों के पास आकर देख सकता है। मदरसा इमदादुल इस्लाम क्षेत्र का सबसे बड़ा मुस्लिम मदरसा है। यहां करीब एक हजार बच्चे दिनी-तालीम हासिल कर रहे हैं। इसके अलावा मदरसे में प्राथमिक शिक्षा भी दी जाती है।