उत्तरकाशी में एक दिन की कोतवाल बनी 19 वर्षीय पूनम, लिए ये फैसले

उत्तरकाशी [उत्तराखंड पोस्ट ब्यूरो] बुधवार को अन्तर्राष्ट्रीय बालिका दिवस पर प्लान इंडिया कार्यक्रम के तहत उत्तराशी में बाजार कोतवाली में लड़कियों को उनकी शक्तियों का ज्ञान कराने के लिए कार्यक्रम हुआ। (उत्तराखंड पोस्ट के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं, आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

इस दौरान पॉलीटेक्निक में पढ़ने वाली हीना गांव की 19 वर्षीय पूनम रावत ने सुबह 11 बजे उत्तरकाशी थाने में पहुंचकर थानाध्यक्ष महादेव उनियाल से चार घंटे का चार्ज संभाला। इसके बाद थाना परिसर में आयोजित कार्यक्रम में पूनम ने बाल मजदूरी और शोषण के खिलाफ एक नाटिका में कोतवाली प्रभारी की भूमिका निभाई। इस दौरान उन्होंने एक कोतवाल के अंदाज में दुकान में काम कर रहे एक नाबालिग बच्चे को उसके घर तक पहुंचाने का काम किया। पूनम ने कोतवाल की भूमिका में वही सब काम किए, जो एक कोतवाल के होते हैं।

कोतवाल की भूमिका निभाते हुए पूनम ने कहा कि आज के समय में लड़कियां, लड़कों से किसी भी क्षेत्र में पीछे नहीं हैं, लेकिन उन्हें केवल उनकी शक्तियों का ज्ञान कराना है।  (उत्तराखंड पोस्ट के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं, आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here