उत्तराखंड | 30 जून तक शुरु नहीं होगी बदरीनाथ और केदारनाथ धाम की यात्रा

देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण को देखते हुए केदारनाथ और बदरीनाथ धाम की यात्रा अभी 30 जून तक शुरू नहीं  की जाएगी।

सोमवार को रुद्रप्रयाग और चमोली में डीएम के साथ हुई हक-हकूकधारियों, व्यापार संघ व होटल व्यवसायियों की बैठक में सर्वसम्मति से ये फैसला लिया गया।

चमोली की डीएम स्वाति एस भदौरिया ने बताया कि 30 जून तक किसी को भी बदरीनाथ धाम के दर्शन की अनुमति नहीं दी जाएगी।

जिला सभागार में हुई बैठक में होटल व्यवसायियों ने एक दिन के लिए होटल व रेस्टोरेंटों की साफ-सफाई करने के लिए बदरीनाथ जाने का प्रस्ताव रखा, जिस पर जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया ने उन्हें एक दिन के लिए धाम जाने की अनुमति दे दी है।

बैठक में फैसला लिया गया कि 30 जून तक बदरीनाथ मंदिर का सिंहद्वार नहीं खोला जाएगा और किसी को भी मंदिर में दर्शन की अनुमति नहीं दी जाएगी। हालांकि मंदिर में पूर्व की भांति पूजा-अर्चना विधिवत रुप से चलती रहेगी।

जोशीमठ में क्वारंटीन अवधि पूर्ण करने वाले साधु-संतों को बदरीनाथ धाम में तपस्या करने की सशर्त अनुमति भी दे दी गई है। धर्माधिकारी भुवन चंद्र उनियाल ने बताया कि साधु-संत बदरीनाथ धाम में अपनी कुटिया में ही तपस्या करेंगे।