धनौल्टी | लग्ज़री कैंप का लीजिए मज़ा

dhanaultiशहर की भीड़-भाड़ से दूर घनौल्टी शांत और सुकून देने वाली जगह है। उत्तराखंड के गढ़वाल जिले में समुद्र तल से 2286 मीटर की उंचाई पर ये एक बेहद सुन्दर हिल स्टेशन है। अपने शांत और सुरम्य वातावरण के लिए जानी जाने वाली यह जगह, चंबा से मसूरी के रास्ते में पड़ती है। यह जगह पर्यटकों के बीच इसलिए भी मशहूर है क्योंकि यह मसूरी से काफी पास है, बल्कि सिर्फ 24 किलोमीटर दूर । यहां से आप दून वैली के सुन्दर नज़ारे का मज़ा उठा सकते हैं।

यहां चारों ओर देवदार और ओक के वन हैं। यह जगह उन लोगों के लिए है, जिन्हें प्रकृति से प्यार है। आप यहां पोनी राइड और ट्रैकिंग करते हुए फलों के बगीचे देख सकते हैं।

कैंपिंग का मज़ा लीजिए

dhanaulti 1धनौल्टी में आपको डीलक्स कैंप मिलेंगे, जहां आप एडवेंचर एक्टिविटीज का आनंद भी ले सकते हैं। ये कैंप प्रकृति के बीच में बनाए गए हैं। इस कैंपों में अटैच्ड टॉयलेट, 24 घंटे पानी और लाइट की सुविधा है। यहां स्वादिष्ट भोजन की भी व्यवस्था होती है। यहां आप पहाड़ियों पर चढ़ाई का आनंद ले सकते हैं। म्युजिक, अंत्याक्षरी के अलावा क्रिकेट का लुत्फ उठा सकते हैं।

कहां घूमें –

बारेहीपानी और जोरांडा फॉल्स – सिम्लिपाल नेशनल पार्क से बारेहीपानी करीब 400 किमी और जोरांडा फॉल्स 150 किमी दूर स्थित है। इन दोनों फॉल्स की खूबसूरती पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए काफी है।

दशावतार मंदिर – भगवान विष्णु को समर्पित इस मंदिर को उत्तर भारत में पहले पंचयतन मंदिर के नाम से जाना जाता था। इस मंदिर की बनावट जितनी आकर्षक भीतर से है उतनी ही बाहर से भी।

ईको-पार्क – यह हाल ही में डेवलप हुआ है, जो अब यहां का मुख्य आकर्षण का केंद्र बन गया है। यहां देवदार वृक्ष भी खूब हैं और प्रवेश के लिए प्रति वयस्क 15 रुपये और प्रति बच्चे 10 रुपये प्रवेश शुल्क देना पड़ता है।

सुरकंडा देवी मंदिर – धनौल्टी से 8 किमी दूर चंबा जाने वाली सड़क के किनारे स्थित सुरकंडा देवी मंदिर शरद ऋतु में आयोजित होने वाले गंगा दशहरा मेले के लिए मशहूर है। यहां आप ट्रेकिंग का भी मजा ले सकते हैं।

मटाटिला डैम – धनौल्टी हिल्स के बीचों-बीच स्थित मटाटिला डैम आइडियल पिकनिक स्पॉट है। यहां बना हरा-भरा गार्डन और वॉटर-स्पोर्ट्स विकल्प इस डैम को आकषर्ण का केंद्र बनाते हैं।

जैन मंदिर – धनौल्टी की पहाड़ियों पर बने कनाली किले के अंदर लगभग 31 जैन मंदिर हैं। यह स्थान छठी से लेकर 17वीं शताब्दी तक जैन केंद्र के रूप में संचालित होता था।

dhanaulti 2कैसे पहुंचें धनौल्टी –

वायु मार्ग-देहरादून का हवाई अड्डा जॉली ग्रांट धनौल्टी से 82 किमी दूर स्थित है।

रेल मार्ग- सबसे नज़दीकी रेलवे स्टेशन देहरादून है।

सड़क मार्ग – आप देहरादून से होते हुए बस से धनौल्टी पहुंच सकते हैं। चाहें तो देहरादून या मसूरी से प्राइवेट टैक्सी, कार बुक कर भी जा सकते हैं

धनौल्टी जाने का सबसे अच्छा समय

धनौल्टी आने वाले पर्यटक यहां गर्मी और ठण्ड दोनों मौसम में आ सकते हैं। गर्मियों में जहां मौसम काफी मनोरम रहता है वहीं सर्दियों में अगर आप लकी रहे तो स्नो फॉल देखने को मिल सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here