चिपको आंदलन विश्व को पर्यावरण संरक्षण के लिए सदियों तक प्रेरित करता रहेगा: CM

देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) चिपको आंदोलन की वर्षगांठ पर प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावतने कहा कि आज पर्यावरण की रक्षा के लिए सबसे बड़े और अनोखे ‘चिपको आंदोलन’ की वर्षगांठ है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज के दिन 1974 में चमोली की रैणी गाँव की महिलाओं ने गौरा देवी जी के नेतृत्व में पेड़ों को बचाने के लिए अपनी जान दांव पर लगा दी। ऐसी मातृ शक्ति को शत शत नमन। चिपको आंदोलन आज भी विश्वभर को पर्यावरण संरक्षण के लिए प्रेरित करता है और सदियों तक प्रेरित करता रहेगा।

विशेष | जानिए क्यों शुरु हुआ था ‘चिपको आंदोलन’, कहां से हुई थी शुरुआत

Youtube – http://www.youtube.com/c/UttarakhandPost

Twitter– https://twitter.com/uttarakhandpost                                

Facebook Page– https://www.facebook.com/Uttrakhandpost