रामनगर | मुख्यमंत्री ने दी 95 करोड़ की सौगात, इन योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास

रामनगर (उत्तराखंड पोस्ट) मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने अपने निर्धारित कार्यक्रमानुसार रविवार को रामनगर पहुॅचकर 95 करोड़ 45 लाख 36 हजार रूपये लागत की 39 योजनाओं का लोकार्पण एवं शिलांयास किया। जिसमें से 44 करोड़ 76 लाख 22 हजार की लागत से निर्मित 12 योजनाओं का लोकार्पण तथा 50 करोड़ 69 लाख 14 हजार रूपये की धनराशि से निर्मित होने वाली 27 योजनाओं का शिलांयास किया।

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि पिछली सरकार में पुल निर्माण कार्य के साथ ही अन्य विकास कार्य बाधित थे। जिन्हे पूरा करने के लिए सरकार प्राथमिकता से कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि कोसी नदी पर बना पुल पीपीपी मोड में निर्मित होने वाला पहला पुल है। उन्होंने कहा कि जिम कार्बेट व नैनीताल शहर में देश-विदेश से पर्यटक आते हैं, जिन्हें पुल के निर्माण होने से रामनगर में आए दिन लगने वाले जाम से मुक्ति मिलेगी तथा पर्यटक सुःखद व सफल यात्रा का अनुभव लेकर जायेंगे।

मुख्यमंत्री रावत ने जनपद में लाॅच की गयी टेलीमेडिसिन सेवा, तृप्ति एप, सूद पोर्टल एवं एप तथा संतुष्टि पोर्टल की प्रशंसा की। श्री रावत ने कहा कि ढेला के ग्रामीण क्षेत्रों को ईको सेंसिटिव जोन से बाहर किया है तथा भारत सरकार में ग्रामीण क्षेत्रों के स्थान पर अन्य भूमि शामिल करने के लिए कहा है।

रावत ने कहा कि किसानों की आजीविका में सुधार के लिए किसान समूहों को ब्याज मुक्त ऋण दिया जा रहा है तथा योजना के अच्छे परिणाम प्राप्त होने पर किसानों के लिए अन्य आकर्षक योजनाएं भी चलाई जायेंगी।

रावत ने कहा कि राज्य में 23 लाख मीट्रिक टन पत्तियाॅ जंगलों में गिरती है। पीरूल से  बिजली बनाने के लिए राज्य सरकार द्वारा उद्यमियों को प्रोत्साहित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पीरूल एकत्र करने वाले व्यक्तियों को उद्यमियों द्वारा 2 रूपये प्रति किलो तथा वन विभाग द्वारा 1 रूपये प्रति किलो की दर से कुल 3 रूपये प्रति किलों प्रदान किये जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि राज्य के लगभग 75 हजार व्यक्तियों को पीरूल एकत्र करने में रोजगार प्राप्त हो सकता है।

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने रामनगर में आयोजित कार्यक्रम में लोक निर्माण विभाग द्वारा 26 करोड़ रूपये की लागत से बने जन सहभागिता प्रणाली (पीपीपी मोड) के अन्तर्गत हल्द्वानी-रामनगर किमी 54 में कोसी नदी पर प्रा0 स्ट्रेस कंक्रीट सेतु निर्माण कार्य, पशुपालन विभाग के 45 लाख 76 हजार की लागत से निर्मित राजकीय पशु चिकित्सालय रामनगर का निर्माण कार्य, तकनीकी शिक्षा विभाग के 295.38 लाख रूपये की लागत से निर्मित राजकीय पाॅलीटेक्निक पीरूमदारा के भवन का निर्माण कार्य, लोक निर्माण विभाग के 348.20 लाख की लागत से निर्मित विधानसभा क्षेत्र लालकुआं में हल्दूचैड़, बेरीपड़ाव एवं मोटाहल्दू के अन्तरिक मार्गो में इण्टर लाॅकिंग निर्माण कार्य, यूपीसीएल (विद्युत) विभाग के 363.78 लाख की लागत से निर्मित 33/11 केवी उप संस्थान चोरगलिया का निर्माण कार्य, सिंचाई विभाग, नलकूप खण्ड के 97.22 लाख की लागत से विकासखण्ड कोटाबाग के ग्राम खुडलिया तोक में 01 सं0राजकीय नलकूप के निर्माण की परियोजना, स्वास्थ्य विभाग के 128 लाख की लागत से निर्मित भीमताल ब्लाॅक के सब सेंटर (हेडिया गाॅव, खुरपाताल, नाईसेला, नौल, पिनरौ, रानीबाग, अल्चैना, जंगलियागाॅव, मंगोली, रौसिल, थापला, डेहरा, देवीधुरा, गेठिया) एवं रामनगर ब्लाॅक के 2 सब सेंटरों (मोहान, सावल्दे) का हैल्थ एवं वैलनेस सेंटर में उच्चीकरण कार्य, कृषि विभाग के 20.20 लाख की लागत से निर्मित जंगलियागाॅव  में आरकेवीआई योजनान्तर्गत जंगली पशुओं से फसल सुरक्षा हेतु 1530.70 मीटर घेरबाड़ निर्माण कार्य, मध्यमिक शिक्षा के 176.60 लाख की लागत से निर्मित राजीव गाॅधी अभिनव विद्यालय बेतालघाट निर्माण, मरम्मत नव निर्माण कार्य, कृषि विभाग के 13.86 लाख की लागत से निर्मित तल्लीसेठी में आरकेवीआई योजनान्तर्गत जंगली पशुओं से फसल सुरक्षा हेतु 1162.30 मीटर घेरबाड़ निर्माण कार्य, आयुर्वेदिक एवं यूनानी विभाग के 67.22 लाख की लागत से निर्मित राजकीय आयुर्वेदिक चिकित्सालय बवियाड़ का भवन निर्माण कार्य, यूपीसीएल (विद्युत) के 320 लाख की लागत से निर्मित एकीकृत विद्युत विकास योजना के अन्तर्गत भवाली नगर क्षेत्र में 33/11 केवी 2ग5 एमवीए उपसंस्थान घोड़ाखाल के निर्माण कार्य का जनोपयोग एवं जनहित में लोकार्पण किया।
माननीय मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने जन सामान्य की आवश्यकताओं की पूर्ति एवं जनहित में 50 करोड़ 69 लाख 14 हजार रूपये की धनराशि से निर्मित होने वाली 27 योजनाओं का शिलांयास किया। जिसमें पेयजल विभाग की 698.37 लाख रूपये धनराशि की बारगल कफल्टा ग्रा0स0 (पम्पिंग) पेयजल योजना, 581.68 लाख रूपये लागत की धारी-खैरना ग्रा0स0 (पम्पिंग) पेयजल पम्पिंग योजना, 128.31 लाख की शीवाशीष कालोनी सुदृढ़ीकरण पेयजल योजना, लोक निर्माण विभाग की 639.40 लाख लागत की खुटानी-धानाचैली-ओखलकाण्डा-खनस्यू-पतलोट मोटर मार्ग के किमी-85 पर 42 मीटर स्पान स्टील ट्रस मोटर सेतु का पुनःनिर्माण कार्य, 142.06 लाख की विधानसभा क्षेत्र रामनगर में तुमडिया डाम-1 व बसई में आन्तरिक मार्गों का निर्माण काय, 124.16 लाख रूपये के विधानसभा क्षेत्र रामनगर में गाॅधीनगर से दफोट तक व शिवनाथपुर नई बस्ती में इन्टर लाॅकिंग टाईल्स से मार्ग निर्माण कार्य, 228.81 लाख सेे पीरूमदारा क्षेत्र के आन्तरिक मार्गों का पुनः निर्माण कार्य-1 रामनगर-काशीपुर मार्ग से आरके पुरम मार्ग, 2- उदयपुरी चोपड़ा से कठियापुल मार्ग, 3-रामनगर काशीपुर मार्ग से साई मंदिर के बाई ओर मार्ग, 4- रामनगर-काशीपुर मार्ग के एसके पुरम मार्ग का कार्य, 310.29 लाख रूपये की लागत सेे विधानसभा क्षेत्र भीमताल के अन्तर्गत बनने वाले डालकन्या-कुण्डल-भोलापुर मोटर मार्ग का निर्माण कार्य, 235.61 लाख की लागत के विधानसभा क्षेत्र नैनीताल के अन्तर्गत पाण्डेगाॅव से तलिया तक मोटर मार्ग का पीसी द्वारा पुनः निर्माण कार्य एवं सुधारीकरण, 194.62 लाख से बसुटिया-दोगड़ा मोटर मार्ग के किमी 1 पर 32 मीटर स्पान स्टील गार्डर मोटर सेतु का निर्माण कार्य,
स्वास्थ्य विभाग के 57.50 लाख की लागत के रामनगर ब्लाॅक के 8 सब सेंटरों (चिल्किया, हिम्मतपुर ब्लाॅक, करनपुर, खुसालपुर, बुक्सा, मालधनचैड़, धारी, पवलगढ़, तुमड़िया डैम) का हैल्थ एण्ड वैलनेस सेंटर में उच्चीकरण कार्य, सिंचाई विभाग के 124.65 लाख सेे विकासखण्ड कोटाबाग के ग्राम ओखलढूॅगा में 01 सं0 मिनी पर्वतीय नलकूप निर्माण की योजना, 463.81 लाख रूपये के बाॅध/बैराज का निर्माण एवं आधुनिकीकरण/पुनरोद्धार मद के अन्तर्गत हल्द्वानी भाबर क्षेत्र में गौला बैराज के क्षत्रिग्रस्त संरचनाओं की मरम्मत का कार्य, 497.46 लाख से नैनी झील का पुर्नजीविकरण एवं निर्माण कार्य मद के अन्तर्गत नैनीताल शहर में 21 सं0 नालों के जीर्णोद्धार का कार्य तथा 205.57 लाख से  नैनी झील का पुर्नजीविकरण एवं निर्माण कार्य मद के अन्तर्गत नैनीताल शहर में 24 सं0 नालों के जीर्णोद्धार का कार्य, उद्यान विभाग के 50 लाख की लागत से नाबार्ड की डब्ल्यूआईएफ योजनान्तर्गत राजकीय उद्यान रामगढ़ में फल एवं सब्जी श्रेणीकरण केन्द्र (पैक हाउस) का निर्माण कार्य, जल संस्थान के 24.57 लाख के विकासखण्ड रामगढ़ की कुलेटी पम्पिंग पेयजल योजना के अन्तर्गत मल्ला रामगढ़ (जगराड़) पम्पिंग पेयजल योजना से गागर क्षेत्र को नई पाईप लाईन से जोड़ने का कार्य व पम्प गृह में विद्युत-यांत्रिक कार्य, 27.23 लाख से विकासखण्ड धारी की मनाघेर पम्पिंग पेयजल योजना के अन्तर्गत पाईप लाईन विस्तारीकरण, जलाशय व पम्प कार्य एवं विद्युत-यांत्रिक कार्य, जिला स्तरीय विकास प्राधिकरण नैनीताल के अन्तर्गत 335.04 लाख रूपये की धनराशि से सम्पन्न होने वाले 9 विभिन्न निर्माण कार्यो का शिलांयास किया।

गौरतलब है कि आयुक्त कुमाऊॅ मण्डल/सचिव माननीय मुख्यमंत्री श्री राजीव रौतेला व जिलाधिकारी श्री सविन बंसल के अथक प्रयासों एवं कई निरीक्षणों के निरीक्षणों के साथ ही कार्यदायी संस्था वशिष्ठा प्रा.लि.कम्पनी को प्रेरित किया। जिसके फलस्वरूप कई वर्षों से लोक निर्माण विभाग के 26 करोड़ रूपये की लागत से जन सहभागिता प्रणाली (पीपीपी मोड) के अन्तर्गत बन रहे हल्द्वानी-रामनगर किमी 54 में कोसी नदी पर प्रा0 स्ट्रेस कंक्रीट सेतु निर्माण कार्य पूर्ण हुआ। जिसके लोकार्पण के फलस्वरूप पर्यटन हब के रूप में विकसित हो रहे रामगनर शहर में आये दिन लगने वाले जाम से मुक्ति मिलेगी तथा पर्यटकों व शहर वासियों की यात्रा सरल होगी तथा हल्द्वानी-काशीपुर की ओर जाने वाले वाहनों को लगभग 000 किमी की यात्रा कम करनी पड़ेगी। इस अवसर पर क्रिकेट के क्षेत्र में विशेष पहचान बनाने वाली प्रतिभावान खिलाड़ी रितू भारद्वाज को भी सम्मानित किया।

कार्यक्रम में सांसद एवं प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट, क्षेत्रीय विधायक दीवान सिंह बिष्ट, दर्जा राज्य मंत्री मजहर नवाब नईम, पालिका अध्यक्ष हाजी मौहम्मद अकरम, ब्लाॅक प्रमुख रेखा रावत, आयुक्त कुमाऊॅ मण्डल एवं सचिव माननीय मुख्यमंत्री श्री राजीव रौतेला, डीआईजी जगत राम जोशी, मुख्य अभियंता डीके यादव, मुख्य नगर आयुक्त एवं कार्यक्रम मजिस्ट्रेट सीएस मर्तोलिया, उप जिलाधिकारी हरगिरी, ईंजीनियर महेन्द्र कुमार, रमेश पाण्डेय, जिलाध्यक्ष प्रदीप बिष्ट, नगर अध्यक्ष भावना भट्ट, पूर्व पालिकाध्यक्ष भगीरथ लाल चैधरी, वीरेन्द्र रावत, सत्य प्रकाश शर्मा, कमल किशोर, अमिता लोहनी, निर्मला रावत, राकेश नैनवाल सहित भारी संख्या में क्षेत्रीय जनता एवं जनप्रतिनिधि आदि मौजूद थी।