आग पर राजनीति | जंगल की आग के लिए पूर्व कांग्रेस सरकार जिम्मेदार: BJP

ajay bhattउत्तराखंड के जंगलों में लगी आग पर राजनीति खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। आग पर भी राजनीतिक दल एक – दूसरे को कोसने का कोई मौका नहीं छोड़ रहे हैं। मंगलवार को देहरादून में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने जंगल में लगी भीषण आग के लिए पूर्व कांग्रेस सरकार को जमकर कोसा।

भट्ट ने कहा कि पिछले 4 साल में कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में कागजों पर करोड़ों रूपए खर्च किए गए लेकिन वनों में फायर लाइन तक नहीं बनई गई। उन्होंने कहा कि राजा जी नेशनल पार्क की फैंसिंग में 32 करोड़ रूपए खर्च कर दिए गए। भट्ट ने आरोप लगाया कि सरकार का पूरा ध्यान वन विभाग से खनन कराने पर ही रहा, जिसके चलते फायर सीजन से पहले वन विभाग आग को रोकने की तैयारी तक नहीं कर पाया। अजय भट्ट ने बिन नाम लिए हरीश रावत पर निशाना साधते हुए कहा कि केंद्र सरकार हर साल 10 से 12 करोड़ कैम्पा के प्रॉजेक्ट द्वारा जो राशि राज्य सरकार को दे रहा था, उस राशि का क्या हुआ इसका जवाब भी तो वे लोग दें।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि केन्द्र सरकार जंगल की आग को नियंत्रित करने के लिए पूरा सहयोग कर रही है। अजय भट्ट ने बताया कि प्रदेश में  वनाग्नि से हुए जन-धन के नुकसान के आकलन के लिए बीजेपी ने एक तीन सदस्यीय कमेटी बनाई है जिसें में पूर्व वन मंत्री भी शामिल हैं। उन्होंने बताया कि ये कमेटी वनाग्नि से हुए जन-धन के नुकसान की रिपोर्ट केंद्र सरकार को भेजेगी, ताकि इसके आधार पर वनाग्नि से प्रभावितों को मदद मिल सके।