कॉर्बेट और राजाजी पार्क में कर्मचारी करेंगे बाघों की गिनती

IMG-20160723-WA0031कॉर्बेट नेशनल पार्क और हरिद्वार स्थित राजाजी पार्क में बाघों की गिनती बाहरी संस्था नहीं, बल्कि पार्क के कर्मचारी खुद करेंगे। दोनों ही नेशनल पार्क के अफसर नवंबर के पहले सप्ताह से गणना का काम शुरू कर देंगे। खुद वन्यजीवों की गणना करने से कॉर्बेट पार्क में बाघों की संख्या और ज्यादा होने की उम्मीद लगाई जा रही है।

2014 में कॉर्बेट पार्क, राजाजी नेशनल पार्क और लैंसडाउन में भारतीय वन्य जीव संस्थान देहरादून ने कैमरा ट्रैप के जरिए बाघों की गणना की थी। इससे कॉर्बेट पार्क में 215 बाघ दर्ज किए गए थे। जबकि लैंसडाउन और राजाजी नेशनल पार्क में बाघों की संख्या काफी कम पाई गई थी।

कॉर्बेट पार्क के डायरेक्टर सुरेंद्र मेहरा ने बताया कि एनजीटी की गाइडलाइन के अनुसार पार्क कर्मी खुद बाघों की गणना कर सकते हैं।

उन्होंने बताया कि राजाजी नेशनल पार्क, कॉर्बेट और लैंसडाउन प्रशासन संयुक्त रूप से बाघों की गणना करने जा रहा है। नवंबर में तीनों जगह बाघों की गणना का काम एक साथ शुरू हो जाएगा। गणना के लिए कैमरा ट्रैप और अन्य उपकरणों की व्यवस्था की जा रही है। कॉर्बेट पार्क में करीब 400 कर्मी बाघों की गणना का काम करेंगे।