डीएम के इस प्लान से नैनीताल में पर्यटन सीजन में जाम के झाम से मिलेगी मुक्ति

नैनीताल (उत्तराखंड पोस्ट) शीतकालीन एवं ग्रीष्मकालीन पर्यटन सीजन व क्रिसमस डे एवं नव वर्ष के अवसरों पर पर्यटन नगरी में पर्यटकों की आवक बड़ी संख्या में होती है। देश व दुनिया के पर्यटकों के साथ ही नैनीताल के आस-पास के शहरों से भी बड़ी संख्या में पर्यटक आते हैं। ऐसे में नैनीताल में पार्किंग की समस्या खड़ी हो जाती है। इस समस्या के फौरी निदान के लिए जिलाधिकारी बंसल ने मंगलवार की सुबह रूसी बाईपास तथा नारायण नगर, चारखेत में पार्किंग की संभावनाओं तलाश आला अधिकारियों के साथ की।

जिलाधिकारी के मुताबिक रूसी बाईपास तथा नारायण नगर में सुविधायुक्त पार्किंग बनाई जायेगी। रूसी बाईपास पार्किंग का संचालन जिला पंचायत द्वारा किया जाएगा जबकि नारायण नगर की पार्किंग का संचालन कुमाऊॅ मण्डल विकास निगम की देख-रेख में होगा।

बंसल ने बताया कि इन चिन्हित पार्किंग स्थलों पर वाहन तभी पार्क किए जायेंगे जब शहर की पार्किंग फुल हो जायेंगी। उन्होंने कहा कि पर्यटन सीजन में पर्यटकों को अपने वाहन निर्धारित पार्किंग स्थलों पर पार्क किए जाने के लिए पार्किंग की ऑनलाईन बुकिंग व्यवस्था पर भी प्रशासन विचार कर रहा है, जल्द ही इसके लिए एप लांच किया जाएगा।

निरीक्षण के दौरान बंसल ने कहा कि बाहर से आने वाले पर्यटकों को सुविधाएं प्रदान करने के लिए वैकल्पिक पार्किंग स्थलों पर बिजली, पानी, शौचालय, कैंटीन आदि की व्यवस्था करने के साथ ही पर्याप्त मात्रा में पुलिस बल तैनात किया जाएगा। उन्होंने कहा कि पर्यटकों को पार्किंग स्थल से लाने-ले जाने के लिए शटल सेवा उचित दामों पर मुहैया करायी जायेगी।

बंसल ने उप जिलाधिकारी विनोद कुमार को निर्देश दिए कि वह अनुमोदन प्राप्त करते हुए धारा 144 (ए) के अन्तर्गत अधिसूचना जारी करें तथा नारायण नगर की पार्किंग के लिए वन विभाग से एनओसी प्राप्त कर लें।

उन्होंने मौके पर मौजूद अपर मुख्य अधिकारी जिला पंचायत साधुराम को निर्देश दिए कि वह तत्काल रूसीबाईपास पार्किंग में लाईटिंग की व्यवस्था सुनिश्चित करें। उन्होंने परियोजना अधिकारी संदीप भट्ट को भी सोलर लाईट लगाने के निर्देश दिए।

बंसल ने अधिशासी अभियंता जल संस्थान संतोष कुमार उपाध्याय से दोनो पार्किंग स्थलों पर स्थापित होने वाले शौचालयों, पुलिस चैकी, भोजनालयों तथा सार्वजनिक स्थानों पर पेयजल की व्यवस्था सुनिश्चित किए जाने के निर्देश दिए। पार्किंग स्थलों पर स्लाईडिंग बेरियर लगाये जाने के भी निर्देश सम्बन्धित अधिकारियों को दिए।

जिलाधिकारी के संज्ञान में आया कि चारखेत में जो प्राईवेट पार्किंग संचालित की जा रही है उसमें चार की जा रहीं दरें उचित नहीं हैं, उन्होंने कहा कि चारखेत में पार्किंग की दरें जिला प्रशासन द्वारा निर्धारित की जायेंगी।

रूसी बाईपास निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी बंसल ने अधीक्षण अभियंता लोनिवि रंजीत रावत को निर्देश दिए कि बाईपास पर सुगम पार्किंग व्यवस्था बनाई जाये। इसके लिए रोड सेंटर से 2.75 मीटर क्षेत्र में रोड के दोनो ओर मार्किंग कर, गाड़ियों के आवागमन हेतु 5.50 मीटर रोड सुरक्षित रखने, तथा रोड के दोनो तरफ पार्किंग की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। उन्होंने पहाड़ी से मलवा आने वाले संभावित संवेदनशील स्थलों को पहले से ही चिन्हित करते हुए, ऐसे स्थलों पर पार्किंग न कराने के सख्त निर्देश दिए।

बंसल ने कहा कि शहर को जाम से मुक्त रखने के लिए पिछले पर्यटक सीजन की तरह इस बार भी रूसी बाईपास व नारायण नगर में अस्थायी पार्किंग बनायी जायेगी। कालाढुंगी रोड पर नारायण नगर से तथा हल्द्वानी रोड पर रूसी बाईपास से शटल सेवा का संचालन किया जाए। जिसमें पर्यटकों को अच्छे वाहनों के माध्यम से बेहतर शटल सेवा दी जाएगी।

उन्होंने कहा कि कुमाऊॅ मण्डल विकास निगम के माध्यम से शटल सेवा का संचालन किया जाएगा। शटल सेवा हेतु वाहनों के लिए समय से निविदा आमंत्रित करने के निर्देश प्रबन्ध निदेशक केएमवीएन को दिए।

निरीक्षण के दौरान वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार मीणा, प्रबन्ध निदेशक केएमवीएन रोहित कुमार मीणा, अपर जिलाधिकारी केएस टोलिया, उप जिलाधिकारी विनोद कुमार, अधिशासी अभियंता लोनिवि डीएस कुटियाल, विद्युत एसएस उस्मान, जिला पर्यटन विकास अधिकारी अरविन्द गौड़, एआरटीओ डॉ गुरदेव सिंह, विमल पाण्डे, सीओ विजय थापा सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

Youtube – http://www.youtube.com/c/UttarakhandPost 

Twitter– https://twitter.com/uttarakhandpost                 

Facebook Page– https://www.facebook.com/Uttrakhandpost