वीडियो | ब्रह्म मुहूर्त में खुले भगवान बदरीनाथ धाम के कपाट

उत्तराखंड के चार धामों में से केदारनाथ धाम, गंगोत्री धाम और यमुनोत्री धाम के कपाट नौ मई को खुलने के बाद बुधवार 11 मई को शुभ मुहूर्त में भगवान बदरीनाथ धाम के कपाट भी श्रद्धालुओं के लिए खोल दिए गए। शुभ मुहूर्त में सुबह चार बजकर 31 मिनट पर भगवान बदरीनाथ के कपाट पूरे विधि विधान से पूजा -अर्चना के बाद खोले गए। इस दौरान पहले से ही हजारों की संख्या में श्रद्धालु भगवान बदरीनाथ के पहले दर्शन के लिए बदरीनाथ धाम पहुंच चुके थे। कपाट खुलते वक्त भगवान बदरीनाथ के जयकारों के बीच बदरीनाथ धाम का माहौल देखने लायक था। हर बार की तरह इस बार भी गेंदे और अन्य फूलों से मंदिर और आसपास के स्थानों को भव्य तरीके से सजाया गया है।

बुधवार को सुबह तीन बजे से मंदिर में कपाट खुलने की प्रक्रिया शुरू हुई और सुबह ठीक 4 बजकर 31 मिनट में मंदिर के रावल ईश्वर प्रसाद नम्बूरी की उपस्थिति में टिहरी नरेश के राजपुरोहित और बामणी गांव के प्रतिनिधि मंदिर का ताला खोला। रावल और धर्माधिकारी ने मंदिर में प्रवेश कर भगवान बदरीविशाल के घृत कंबल का अनावरण किया और विशेष पूजा अर्चना की, जिसके बाद देश-विदेश से पहुंचे श्रद्धालुओं ने भगवान बदरीनाथ के दर्शन किए।