पूर्व विधायक को मंच पर बोलने का नही मिला मौका, सीएम के बगल में बैठकर फूट-फूटकर रोने लगे

208

पलवल (उत्तराखंड पोस्ट) चुनावी मौसम में रैलियों का दौर जारी है। इस बीच एख खबर मिली है कि बीजेपी नेता को मंच पर बोलने का मौका नहीं मिला तो वो फूट-फूटकर रोने लगे।

जानकारी के मनुताबिक हरियाणा के पलवल के औरंगाबाद गांव में सीएम मनोहर लाल ने विजय संकल्प रैली में सीएम मनोहर लाल समेत बीजेपी के कई नेता मंच पर मौजूद थे। सीएम के आने के पहले कई नेताओं ने मंच संचालन किया। इस बीच सीएम मनोहर लाल जैसे ही मंच पर पहुंचे तो प्रोटोकॉल के हिसाब से रैली को संबोधित करने लगे।

मंच पर ही सीएम के बगल में हसनपुर (अब होडल) के पूर्व बीजेपी विधायक रामरतन भी बैठे हुए थे. वह रैली में बोलने का इंतजार करते रहे, लेकिन उन्हें बोलने नहीं मिला। तो मंच पर ही फूट-फूटकर रोने लगे। वे गले में पड़े बीजेपी के पटके से बार-बार आंसू पोंछते दिखे।

जब नेताओं ने उनकी नाराजगी की वजह जानने की कोशिश की लेकिन वो कुछ नहीं बोले और अपने आंसू पोंछते रहे। फिर पत्रकारों ने सवाल किया तो सीएम ने प्रोटोकॉल का हवाला दिया। उन्होंने कहा कि प्रोटोकॉल के कारण रामरतन जी का नंबर नहीं आया, लेकिन मैंने उनके बारे में खुद लोगों को बताया। रामरतन पार्टी के सच्चे सिपाही हैं। वहीं, जब इस बारे में बीजेपी के बाकी नेताओं से बात की गई तो उन्होंने कहा कि सीएम मनोहर लाल ने उनकी मंच पर तारीफ़ की जिससे वो भावुक हो गए।

हमारा Youtube  चैनल Subscribe करें http://www.youtube.com/c/UttarakhandPost 

हमें ट्विटर पर फॉलो करेंhttps://twitter.com/uttarakhandpost

हमारा फेसबुक पेज लाइक करें – https://www.facebook.com/Uttrakhandpost/