रोहित शेखर को लेकर हरीश रावत का बड़ा खुलासा, जल्द करने वाले थे ये काम

देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री रहे दिवंगत नारायण दत्त तिवारी के बेटे रोहित शेखर तिवारी का मंगलवार को दिल्ली में निधन हो गया। उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने रोहित शेखर के असमय निधन पर दुख जताया है। साथ ही हरीश रावत ने रोहित शेखर को लेकर अहम बात बताई है कि वे बीजेपी छोड़कर कांग्रेस में शामिल होने का मन बना रहे थे।

हरीश रावत ने इस बारे में अपने फेसबुक पेज पर लिखा कि रोहित शेखर तिवारी की असामयिक मौत बहुत हृदयविदारक है। मुझे अभी-अभी यह समाचार मिला, मैं विश्वास नहीं कर पा रहा हूं। एक ऊर्जा से भरपूर, परिपक्व और विचारों से बहुत ही संघर्षशील, अध्ययनशील नौजवान जिससे बहुत उम्मीदें थी अपने पिता के नाम को आगे बढ़ाने की, वो बीच में ही हमको छोड़ करके चल दिया।

पूर्व सीएम ने आगे कहा कि अभी कुछ दिन पहले उनसे भविष्य की योजना के विषय में बातचीत हुई थी। वो कांग्रेस के साथ अपनी लीगेसी के महत्व को समझते थे और मुझसे कांग्रेस में अपनी संभावनाओं के विषय में उन्होंने चर्चा की थी। हम भी उत्सुक थे क्योंकि नारायण दत्त तिवारी जी को कोई कुछ कहे मगर वो कांग्रेस के इतिहास का हिस्सा रहे। तो उनके पुत्र को हम यकीनन कांग्रेस के साथ जोड़ करके आगे देखना चाहते थे मगर सब कुछ बीच में ही खत्म हो गया, मुझे बहुत दुख है।

अंत में हरीश रावत ने कहा कि उज्ज्वला जी के संघर्ष को मैं प्रणाम करता हूं, रोहित शेखर के संघर्ष को मैं प्रणाम करता हूं। भगवान मृत आत्मा को शांति दे और उज्ज्वला जी को इस बहुत बड़े सदमे को सहन करने की शक्ति दे।

एनडी तिवारी ने बेटा मानने से कर दिया था इंकार, DNA टेस्ट के बाद रोहित को ऐसा मिला अपना अधिकार

हमारा Youtube  चैनल Subscribe करें http://www.youtube.com/c/UttarakhandPost 

हमें ट्विटर पर फॉलो करेंhttps://twitter.com/uttarakhandpost

हमारा फेसबुक पेज लाइक करें – https://www.facebook.com/Uttrakhandpost/

एनडी तिवारी के बेटे का निधन, एनडी ने 90 की उम्र में की थी रोहित शेखर की मां से शादी