हल्द्वानी के लिए अच्छी ख़बर, रंग लाई डीएम सविन बंसल की ये पहल

हल्द्वानी (उत्तराखंड पोस्ट)  कई वर्षो से हल्द्वनाी शहर वाॅक -वे के पास नाले, सौरभ होटल के पास व जिलाधिकारी कैम्प कार्यालय के नाला ओवरफ्लो होने से सड़को में जल-भराव की स्थिति उत्पन्न हो जाती थी । जिलाधिकारी सविन बसंल ने हल्द्वानी शहर में नाले के ओवरफ्लो हाने से जल-भराव को गम्भीरता से लेते हुए जल-भराव से निजात दिलाने की पहल की अब जो धरातल पर दिखाई दे रहा है।

बसंल ने सम्बन्धित अधिकारियों के साथ लगातार बैठक व स्थलीय निरीक्षण कर नाले/नहर से बी.एस.एन.एल ,पेयजल लाईनों को हटाते हुए नाले -नहर की ऊॅचाई बढाई तांकि पानी बिना अवरोध के बह सकें। उन्होने कैम्प कार्यालय के आगे वर्षाकाल में आये दिन पानी बहाव अवरूद्ध होने से पानी सड़क पर आकर जल भराव हो जाता था जिस पर जिलाधिकारी ने नाले/नहर बहाव अवरूद्ध कर रही बी.एस.एन.एल की लाईन व जल संस्थान की पेयजल लाईन को शिफ्ट करवाकर पानी का बहाव प्रशस्त करवाया वही सौरभ होटल के आगे भी नहर से बी.एस.एन.एल व पेयजल लाईन शिफ्ट कराते हुए नहर की ऊॅचाई बढ़ाई  गयी।

वर्षाकाल में वाॅक-वे माॅल नाले में ऊपरी क्षेत्र से तीव्र गति से अत्याधिक मात्रा में पानी आता है माॅल के पास नाले का मुहाना छोटा होने के कारण पानी ओवरफ्लो होकर सड़क पर ही बहता है। जिससे जल भराव की स्थिति के साथ ही सड़के भी क्षतिग्रस्त होती है व शहर की जनता को आवागन में भी परेशानी का सामना करना पड़ता है।

हल्द्वानी (उत्तराखंड पोस्ट) कई वर्षो से हल्द्वनाी शहर वाॅक -वे के पास नाले, सौरभ होटल के पास व जिलाधिकारी कैम्प…

Uttarakhand Post द्वारा इस दिन पोस्ट की गई शनिवार, 16 नवंबर 2019

जिलाधिकारी ने वाॅक -वे माॅल निरीक्षण के दौरान सिचाई, पी.डब्लू.डी,नगर निगम के अधिकारियों को नाले की चैड़ाई बढ़ाने व नाले को सड़क क्रास कराते हुए नहर से जोड़ने का सर्वे कर आंगणन प्रस्तुत करने के निर्देश दिये गये थे। सम्बन्धितों द्वारा जिलाधिकरी को आंगणन प्रस्तुत किया गया। जिस पर जिलाधिकारी ने स्वंय रूचि लेते हुए वाॅक-वे नाला कार्य का आंगणन मुख्य मंत्री कार्यालय में भेज कर मुख्यमंत्री से घोषणा करा दी साथ ही जिलाधिकारी ने नैनीताल रोड़ पर सड़क के दोनों ओर नालियों पर बने फुटपाथ के नीचे नालियां मे सड़क का पानी निकासी हेतु 85 जाॅलियां लगावाई गई। जिससे वर्षाकाल में सड़को का पानी जालियों के रास्ते नालियों में चला जायेगा, जिससे जनता को आवागमन में परेशानी नही होगी वही सड़के क्षतिग्रस्त होने से बचेगी। जिलाधिकारी की स्वंय रूचि व अभिनव पहल से अब हल्द्वानी शहर वासियों को जल-भराव से निजात मिलेगी ।