PM मोदी बोले- “वन नेशन, वन राशन कार्ड” की व्यवस्था लागू होगी, 3 मिनट में समझिए क्या है योजना ?

नई दिल्ली (उत्तराखंड पोस्ट) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राष्ट्र को संबोधित करते हुए कहा कि कोरोना काल में हर हाल में नियमों का पालन होना चाहिए। गरीबों औऱ किसानों को राहत- पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा, प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत गरीबों के लिए पौने दो लाख करोड़ रुपये का पैकेज दिया गया।
 
PM मोदी बोले- “वन नेशन, वन राशन कार्ड” की व्यवस्था लागू होगी, 3 मिनट में समझिए क्या है योजना ?

नई दिल्ली (उत्तराखंड पोस्ट) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राष्ट्र को संबोधित करते हुए कहा कि कोरोना काल में हर हाल में नियमों का पालन होना चाहिए।

गरीबों औऱ किसानों को राहत- पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा, प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत गरीबों के लिए पौने दो लाख करोड़ रुपये का पैकेज दिया गया। बीते 3 महीनों में 20 करोड़ गरीब परिवारों के जनधन खातों में सीधे 31 हजार करोड़ रुपए जमा करवाए गए हैं। इस दौरान 9 करोड़ से अधिक किसानों के बैंक खातों में 18 हजार करोड़ रुपए जमा हुए हैं।

80 करोड़ लोगों को मिलेगा मुफ्त अनाज-  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, सरकार ने कोरोना से लड़ते हुए भारत में 80 करोड़ से ज्यादा लोगों को 3 महीने का राशन, यानि परिवार के हर सदस्य को 5 किलो गेहूं या चावल मुफ्त दिया है।

पीएम मोदी ने एक बड़ी घोषणा करते हुए कहा, मॉनसून के दौरान भारत में सबसे ज्यादा खेती का काम होता है। ऐसे में सरकार ने फैसला किया है कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का विस्तार होगा और इसके तहत नवंबर तक 80 करोड़ लोगों को मुफ्त अनाज दिया जाएगा।

पीएम मोदी ने कहा, ‘आज मैं इसी से जुड़ी एक महत्वपूर्ण घोषणा करने जा रहा हूं। हमारे यहां वर्षा ऋतु के दौरान और उसके बाद मुख्य तौर पर एग्रीकल्चर सेक्टर में ही ज्यादा काम होता है। अन्य दूसरे सेक्टरों में थोड़ी सुस्ती रहती है. जुलाई से धीरे-धीरे त्योहारों का भी माहौल बनने लगता है। त्योहारों का ये समय, जरूरतें भी बढ़ाता है, खर्चे भी बढ़ाता है।

इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए ये फैसला लिया गया है कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना का विस्तार अब दीवाली और छठ पूजा तक, यानि नवंबर महीने के आखिर तक कर दिया जाए।

उन्होंने आगे कहा, ’80 करोड़ लोगों को मुफ्त अनाज देने वाली ये योजना अब जुलाई, अगस्त, सितंबर, अक्टूबर और नवंबर में भी लागू रहेगी।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के इस विस्तार में 90 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा खर्च होंगे। अगर इसमें पिछले तीन महीने का खर्च भी जोड़ दें तो ये करीब-करीब 1.5 लाख करोड़ रुपए हो जाता है।

उन्होंने कहा कि पूरे भारत के लिए हमने एक सपना देखा है। कई राज्यों ने अच्छा काम किया है। अब पूरे भारत के लिए एक राशन कार्ड की व्यवस्था हो रही है। यानी वन नेशन, वन राशन कार्ड। इसका सबसे बड़ा लाभ उन गरीब साथियों को मिलेगा जो रोजगार या दूसरे काम के लिए अपना गांव छोड़कर दूसरे राज्य या कहीं और जाते है।

नीचे वीडियो में सिर्फ 3 मिनट में जानिए क्या है वन नेशन, वन राशन कार्ड योजना-

आज अगर गरीब, जरूरतमंद को सरकार अगर मुफ्त अनाज दे पा रही है तो इसका श्रेय प्रमुख रूप से दो वर्गों को जाता है- पहला देश के किसान, दूसरा हमारे देश के ईमानदार करदाता।

आपका परिश्रम आपका समर्पण की वजह से देश यह मदद कर पा रहा है। आपने देश का अन्न भंडार भरा है इसलिए आज श्रमिक, गरीब का चूल्हा जल रहा है। आपने ईमानदारी से अपना टैक्स भरा है इसलिए गरीब इतने बड़े संकट से मुकाबला कर पा रहा है। आज मैं किसानों और टैक्सपेयर्स को हृदय से नमन करता हूं।

बड़ी ख़बर | कोरोना से दूल्हे की मौत, शादी में शामिल हुई 95 लोग पाए गए पॉजीटिव

ये क्या ? | कोरोनिल पर पतंजलि का यू टर्न, कहा- नहीं बनाई कोरोना की दवा

उत्तराखंड के रोचक वीडियो के लिए हमारे Youtube चैनल को SUBSCRIBE जरुर करें–   http://www.youtube.com/c/UttarakhandPost

Twitter– https://twitter.com/uttarakhandpost                        

Facebook Page– https://www.facebook.com/Uttrakhandpost

Instagram-https://www.instagram.com/postuttarakhand/

From around the web