पाकिस्तान की गोली का जवाब गोली से: गृहमंत्री

CcNRF7aUsAELGEBउत्तराखंड के खटीमा पहुंचे केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान पर जमकर निशाना साधा। राजनाथ सिंह ने कहा कि पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। इसलिए हमारी सरकार ने फैसला किया है कि अगर पाकिस्तान की तरफ से गोली चलेगी, तो हमारे सैनिक उसका मुंहतोड़ जवाब देंगे।

राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान को निशाने पर लेते हुए कहा कि पाकिस्तान की पुरानी आदत है, जब देखो तब सीमा पर गोलीबारी कर देता है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान की गोलीबारी में जब पांच लोगों की जान गई, तो मैंने सेना के अधिकारियों से फोन पर उनसे पूछा कि पाक की गोलीबारी पर हम क्या कर रहे हैं, तो उन्होंने बताया कि पाकिस्तान गोलीबारी करता है तो हम सफेद झंडा दिखाते हैं। जिसका मतलब है कि हम आप पर गोली नहीं चलाना चाहते, हम आपसे बातचीत करना चाहते हैं। लेकिन पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आता है।

राजनाथ ने कहा कि मैंने भी सेना से कहा कि आप पहले गोली मत चलाओ, लेकिन अगर पाकिस्तान गोली चलाता है तो हम सफेद झंडा नहीं दिखाएंगे। पहली गोली अपनी तरफ से नहीं चलनी चाहिए, लेकिन पहली गोली पाकिस्तान से चले तो फिर भारतीय सेना को गोलियां नहीं गिननी चाहिए।

माओवाद से मुक्ति

माओवाद की बात करते हुए राजनाथ ने कहा कि हमारी सरकार ने सिर्फ 21 महीने पूरे किए हैं। पहले देश के 162 गांव माओवाद से पीड़ीत थे लेकिन अब कुछ ही रह गए हैं।

नेपाल हमारा मित्र

नेपाल पर बोलते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि हम कह सकते हैं कि हमारा कोई पड़ोसी मित्र है तो वह नेपाल है। भारत और नेपाल दोनों देश को मिलकर ये कोशिश कनी चाहिए कि सीमा पर कोई राष्ट्रदोह गतिविधि और गलत काम ना हो।

शहीदों के परिजनों का सम्मान

इससे पहले गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने खटीमा में ‘खटीमा उत्सव’ का शुभारंभ किया। इस मौके पर गृहमंत्री ने देश के लिए अपने प्राण न्यौछावर करने वाले उत्तराखंड के वीर जवानों के परिजनों को सम्मानित भी किया। शहीद सैनिकों के परिजनों को संबोधित करते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि खटीमा के शहीदोंपर एक किताब छपवानी चाहिए ताकि जिन वीर जवानों ने देश के लिए कुर्बानी दी उनके बारे में भावी पीढ़ी जान सके।