पब्लिक ऑपिनियन से होगा इंदिरा मार्केट का पुनर्विकास: मुख्यमंत्री

291

बीजापुर हाउस में मुख्यमंत्री हरीश रावत की अध्यक्षता में इंदिरा मार्केट के पुनर्विकास पर एम्पावर्ड ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स की बैठक आयोजित हुई। मुख्यमंत्री रावत ने इसकी कार्ययोजना में सभी स्टेक होल्डर(प्रभावित दुकानदारों) की सहमति प्राप्त करने के साथ ही पब्लिक ऑपिनियन लेने के भी निर्देश दिए।
उन्होंने एमडीडीए के उपाध्यक्ष आर मीनाक्षी सुन्दरम को निर्देश दिए कि प्रोजक्ट से पहले क्या स्थिति है और प्रोजेक्ट के बनने के बाद क्या स्थिति होगी, इसकी जानकारी विभिन्न माध्यमों से देहरादून की जनता को दें। अभी भी जिन दुकानदरों को कुछ संशय है, उनकी शंकाओं को दूर करने के लिए एक बार और वार्ता करें।
एमडीडीए उपाध्यक्ष ने बताया कि 90 प्रतिशत से अधिक दुकानदारों की सहमति मिल गई है, अन्य दुकानदारों से भी बातचीत की जा रही है। लगभग 500 दुकानदार इसमें कवर होंगे। प्रोजेक्ट के तहत एक हजार पार्किंग की व्यवस्था फ्री मुफ्त होगी।
दुकानदारों के अलावा अन्य लोगों को भी पार्किंग की सुविधा उपलब्ध होगी। वर्तमान में इंदिरा मार्केट क्षेत्र काफी संकरा होने से भीड-भाड़ रहती है। प्रोजेक्ट बनने के बाद जगह को लेकर व्यवहारिक दिक्कतें दूर होंगी। वर्तमान में पेड़ इक्का-दुक्का ही हैं। रिडेवलपमेंट में ग्रीन एरिया भी विकसित किया जाएगा। लोगों के लिए अन्य बुनियादी सुविधाएं भी विकसित की जाएंगी।
बैठक में केबिनेट मंत्री दिनेश अग्रवाल, प्रीतम पंवार, अपर सचिव रंजीत कुमार सिन्हा, एमडीडीए के सचिव पीसी दुम्का सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।