भगवान शिव को इस तरह से करें खुश, पूजा करते समय न करें ये गलती

देहरादून(उत्तराखंड पोस्ट) इस बार 21 फरवरी को महाशिवरात्रि मनाई जा रही है। आज के दिन व्रत रखने और पूजन करने से शुभ फल मिलता है।

ऐसे करें पूजा- पूजा के समय पूर्व या उत्तर दिशा की तरफ मुख करके ही बैठना चाहिए। शिवरात्रि के दिन भगवान भोलेनाथ का जलाभिषेक करने जा रहे हैं तो बेल पत्री को चढ़ाना ना भूले क्योंकि इससे आपके इष्ट देव प्रसन्न होते हैं और आपके मोक्ष का द्वार खुलता है गाय का दूध गंगाजल मिठाई आदि से भगवान भोलेनाथ को प्रसन्न किया जा सकता है

ये काम न करें- इस दिन पूजा में शिवलिंग पर जल चढ़ाते हुए कभी भी काले कपड़े नहीं पहनने चाहिए। काला रंग अशुभ माना जाता है।साथ ही महिलाओं को शिवलिंग पूजा के समय उसे छूना नहीं चाहिए। शास्त्रों में शिव पूजा में दिशा को भी विशेष महत्व दिया गया है।

मान्यता है कि शिवलिंग की परिक्रमा सम्पूर्ण नहीं की जाती है। जिस दिशा से चढ़ाया गया जल निकलता हो उस जगह को नहीं लांघना चाहिए। यह अशुभ फल देता है।शिवलिंग की पूजा करते समय कभी भी सिंदूर, काले तिल और हल्दी नहीं चढ़ानी चाहिए।

शिव पूजा में भस्म , बेलपत्र और और चंदन का प्रयोग करना चाहिए। शिवलिंग पर जलाभिषेक करते समय गलती से भी तुलसी के पत्ते नहीं चढ़ाने चाहिए। यह वर्जित माना गया है। ऐसे में आप पीले और लाल फूल या रुद्राक्ष की माला चढ़ा सकते हैं।

– Follow us on twitter –https://twitter.com/uttarakhandpost

Like our Facebook Page – https://www.facebook.com/Uttrakhandpost/