शहीद पवन को दी गई अंतिम विदाई, अंतिम यात्रा में उमड़ा जन सैलाब

 गंगोलीहाट (पिथौरागढ़) [उत्तराखंड पोस्ट ब्यूरो] जम्मू कश्मीर के पुंछ सेक्टर में आठ अगस्त को शहीद हुए पवन सिंह सुगड़ा का शुक्रवार को पूरे सैन्य सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गई। इससे पहले उनके पार्थिव शरीर को उनके निवास पर लाया गया। शहीद पवन के अंतिम दर्शन के लिए लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा।

गौरतलब है कि शहीद पवन का पार्थिव शरीर गुरुवार को गंगोलीहाट पहुंचा था। देर शाम हो जाने के कारण उऩका पार्थिव शरीर यहां सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में रखा गया है। जिसके बाद आज सुबह पार्थिव शरीर को उनके निवास पर लाया गया।

गांव के लोग बताते हैं कि एक माह पूर्व ही वह अवकाश बिता कर जम्मू में देश की हिफाजत का फर्ज निभाने गए थे। जवान पवन काफी मिलनसार और मृदुल स्वभाव का होने के कारण सभी के चहेते थे। लोग उनकी बातें, उनके अंदाज को याद कर फफक पड़ रहे हैं।

सुगड़ा निवासी पवन सिंह सुगड़ा करीब तीन वर्ष पूर्व फौज में सिपाही के पद पर भर्ती हुए थे। पिता दान सिंह सुगड़ा भी पूर्व सैनिक हैं। जो इस समय गांव में ही रहते हैं। पवन सहित चार भाई बहन हैं। जिसमें दो भाई और बहनें है। बड़ा भाई धीरज सिंह सुगड़ा उत्तराखंड पुलिस में है। जो इस समय हल्द्वानी में तैनात है।

पवन की अभी शादी नहीं हुई है। चार भाई बहनों में उसके बड़े भाई और बहन की शादी हो चुकी है। पवन और उसकी छोटी बहन की शादी नहीं हुई है। छोटी बहन गंगोलीहाट डिग्री कालेज में पढ़ती है।

(उत्तराखंड पोस्ट के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं, आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)