MDDA ने घूसखोर सुपरवाइजर को किया सस्पेंड

mdda_newविजिलेंस टीम द्वारा एक लाख रूपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार एमडीडीए के सुपरवाइजर अजय कुमार को सोमवार को 48 घंटे से अधिक समय लगातार जेल में रहने निलंबित कर दिया गया। गौरतलब है कि रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़े गए एमडीडीए के सुपरवाइजर अजय कुमार ने पूछताछ में खुलासा किया था कि वह प्रभारी एई टीपी नौटियाल के कहने पर रिश्वत की रकम लेने आया था। जिसके बाद से ही प्रभारी एई टीपी नौटियाल फरार है। वहीं इस मामले की विभागीय जांच में सेक्टर 11 के जेई नरेंद्र तोमर की भी संलिप्तता पाई गई। जांच में सामने आया कि सेक्टर एक व चार में तैनात होने के बावजूद नरेंद्र तोमर ने दूसरे क्षेत्र की जांच रिपोर्ट लिखाई। उन्होंने व्यावसायिक भवन का नक्शा आवासीय में पास करवा दिया। इसके बाद नरेंद्र तोमर को कार्यालय से अटैच कर दिया गया था।

एमडीडीए सचिव प्रकाश चंद्र दुमका ने बताया कि फरार एई को बिना सूचना अनुपस्थित रहने पर नोटिस जारी किया गया है। उन्होंने कहा कि तीन दिन में संतोषजनक जवाब दाखिल नहीं करने पर नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।