UET के आवेदनों में मिली गलतियां, ये काम करें वर्ना रिजेक्ट हो जाएगा फॉर्म

90

रामनगर (उत्तराखंड पोस्ट) उत्तराखंड अध्यापक पात्रता परीक्षा (यूटीईटी) के लिए आवेदन करने वाले आठ हजार अभ्यर्थियों के आवेदन पत्रों में गलतियों को सुधारने के लिए एक और मौका है। वह 14 नवंबर तक ऑनलाइन या फिर बोर्ड ऑफिस पहुंचकर प्रत्यावेदन कर सकते हैं।

उत्तराखंड बोर्ड के उपसचिव सीपी रतूड़ी ने बताया कि कुल 1.13 लाख आवेदनों में से 8188 अभ्यर्थियों के आवेदन में गलतियां मिली हैं। ऐसे अभ्यर्थियों को गलती सुधारने के लिए बोर्ड की ओर से एक और मौका दिया जा रहा है ।इनके आवेदन उत्तराखंड विद्यालयी शिक्षा परिषद की वेबसाइट पर अपलोड कर दिए गए हैं। इसमें यह भी बताया गया कि उनके आवेदन में क्या गलतियां हैं। अभ्यर्थियों की तीन सूचियां बनाई गई हैं, जिनमें यूटीईटी प्रथम के 5439, द्वितीय के 3120 अभ्यर्थी हैं।

629 अभ्यर्थियों ने यूटीईटी प्रथम या द्वितीय का विकल्प नहीं भरा है। संबंधित अभ्यर्थी 14 नवंबर तक प्रत्यावेदन कर सकते हैं। अंतिम तिथि के बाद प्राप्त होने वाले प्रत्यावेदनों पर विचार नहीं किया जाएगा। उनका आवेदन पत्र निरस्त कर दिया जाएगा।उत्तराखंड यूटीईटी में इस बार अभ्यर्थियों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है। इस बार कुल 1.13 लाख अभ्यर्थी परीक्षा देंगे। यूटीईटी प्रथम में इस बार बीएड अभ्यर्थी भी अर्ह होने के कारण दस गुना अधिक आवेदन आए हैं। उत्तराखंड विद्यालयी शिक्षा परिषद के माध्यम से यह परीक्षा 14 दिसंबर को प्रदेश के 29 शहरों में दो पालियों में कराई जाएगी।   

उत्तराखंड बोर्ड के अपर सचिव एनसी पाठक ने बताया कि यूटीईटी प्रथम में इस बार बीएड डिग्री धारक भी आवेदन कर सकते थे। इसी वजह से यूटीईटी प्रथम में इस बार 55311 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया, जबकि पिछली बार तक सिर्फ डीएलएड की बाध्यता के कारण इसके मात्र 5263 आवेदक थे।इसी प्रकार बीएड की पूर्ववत योग्यता के कारण यूटीईटी द्वितीय में पिछली बार के 54126 आवेदकों के सापेक्ष इस बार 58500 आवेदन आए हैं। पिछली बार दोनों के 59389 आवेदकोंके सापेक्ष इस बार दोनों यूटीईटी के लिए कुल 113811 आवेदन बोर्ड को मिले हैं।

14 दिसंबर को पहली पारी में यूटीईटी प्रथम, दूसरी पाली में यूटीईटी द्वितीय होगी। इसके लिए पौड़ी, पिथौरागढ़, नैनीताल में तीन-तीन केंद्र बने हैं जबकि अन्य शहरों में दो-दो स्थानों पर परीक्षा होगी। अपर सचिव ने बताया कि जिन अभ्यर्थियों के आवेदन पत्रों में त्रुटियां हैं, उनकी सूची वेबसाइट पर अपलोड की जा रही है। अभ्यर्थी इन त्रुटियों को दस दिन में सुधार कर प्रत्यावेदन कर सकते हैं। त्रुटियां न सुधारने पर आवेदन निरस्त किया जा सकता है।

(उत्तराखंडपोस्ट के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैंआप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)