आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में फिर से नंबर वन बनी भारतीय टीम

भारतीय टीम आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में फिर से नंबर वन हो गई है। भारत ने यह स्थान ऑस्ट्रेलिया से छीना है, जिसने श्रीलंका से तीन टेस्ट मैचों की सीरीज 0-3 से गंवाने के साथ अपनी शीर्ष रैंकिंग भी गंवा दी है। ऑस्ट्रेलियाई टीम कोलंबो आने से पहले 118 अंक लेकर टॉप पर काबिज थी। लेकिन
 

भारतीय टीम आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में फिर से नंबर वन हो गई है। भारत ने यह स्थान ऑस्ट्रेलिया से छीना है, जिसने श्रीलंका से तीन टेस्ट मैचों की सीरीज 0-3 से गंवाने के साथ अपनी शीर्ष रैंकिंग भी गंवा दी है।

ऑस्ट्रेलियाई टीम कोलंबो आने से पहले 118 अंक लेकर टॉप पर काबिज थी। लेकिन श्रीलंका में सीरीज हारने के बाद उसके 108 अंक हो गए जिससे वह इंग्लैंड के बराबर हो गई। लेकिन रैंकिंग में वह इंग्लैंड से ऊपर है जबकि श्रीलंका के कुल 95 अंक हो गए हैं।

पाकिस्तानी टीम भारत से महज एक अंक पीछे दूसरे स्थान पर पहुंच गई है। भारत ने साल की शुरुआत टॉप रैंकिंग से की थी लेकिन ऑस्ट्रेलिया ने न्यूजीलैंड में मेजबान टीम के खिलाफ 2-0 की जीत के बाद अपना पहला स्थान दोबारा हासिल कर लिया था। पाकिस्तानी टीम एक साल से भी कम समय में दूसरी बार दूसरे नंबर पर पहुंची है। पिछले साल यूएई में इंग्लैंड को 2-0 से पराजित करने के बाद भी पाकिस्तान दूसरे स्थान पर पहुंचा था और 2003 में मौजूदा रैंकिंग प्रणाली शुरू करने के बाद ऐसा पहली बार हुआ था।

शीर्ष स्थान बरकरार रखने के लिये भारतीय टीम को अब वेस्टइंडीज के खिलाफ चार टेस्ट मैचों की सीरीज का चौथा और अंतिम टेस्ट जीतना होगा, जो गुरुवार से पोर्ट आफ स्पेन में शुरू हो रहा है। भारत अगर टेस्ट मैच जीतने में नाकाम रहता है तो पाकिस्तानी टीम पहली बार नंबर एक रैंकिंग पर काबिज हो जाएगी।

अगर भारत चौथा टेस्ट जीत जाता है तो उसके 112 अंक हो जाएंगे जिससे वह पाकिस्तान से महज एक अंक आगे रहेगा लेकिन अगर यह टेस्ट ड्रा हो जाता है तो उसके 110 अंक होंगे। अगर वेस्टइंडीज की टीम सांत्वना भरी जीत दर्ज करती है तो भारत के 108 अंक हो जाएंगे और वह चौथे स्थान पर खिसक जाएगा।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज से पहले श्रीलंका के 85 अंक थे और तब वह सातवें स्थान पर थी लेकिन अब वह 10 अंक हासिल कर छठे स्थान पर पहुंच गई है।

From around the web