सर्दियों में फलों का राजा है अमरूद, जानिए इसके बेमिसाल फायदे

186

देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) अमरूद खाने में  जितना स्वादिष्ट होता ही है, सेहत के लिए भी उतना ही उपयोगी होता है। खासकर ठंड के मौसम में अमरूद खाने के कई फायदे हैं । अमरूद  में भरपूर मात्रा में विटामिन सी पाया जाता है ।

अमरूद का नियमित सेवन करने से सर्दी जुकाम जैसी सामान्य बीमारियों के होने का खतरा कम हो जाता है और इसमें मौजूद विटामिन ए और ई आंखों, बालों और त्‍वचा को पोषण देता है। अमरूद मैग्नीज का बहुत बढ़िया स्रोत है जो हमारे शरीर को दूसरे भोजन से मिलने वाले महत्वपूर्ण पोषक तत्वों को ग्रहण करने में मदद करता है। अमरूद में मौजूद पोटैशियम रक्त चाप के स्तर को सामान्य बनाए रखता है। दिल और मांसपेशियों को दुरुस्‍त रखकर उन्‍हें कई बीमारियों से बचाता है।

अमरूद में 80 फीसदी पानी होता जो त्वचा की नमी बरकरार रखता है। इसके अलावा, आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है। अमरूद में फाइबर की मात्रा बहुत अधिक होती है।अमरूद में पाया जाने वाला लाइकोपीन नामक पोषक तत्व शरीर को कैंसर और ट्यूमर के खतरे से बचाने में मददगार होते हैं। अमरूद में बीटा कैरोटीन होता है जो शरीर को त्‍वचा संबंधी बीमारियों से बचाता है।अमरूद को इसके बीजों के साथ खाना बहुत लाभदायक होता है, जिसके कारण पेट साफ रहता है।अमरूद मेटाबॉलिज्‍म को सही रखता है जिससे शरीर में कोलेस्‍ट्रॉल का स्‍तर नियंत्रित रहता है। 

यह वजन घटाने में भी मददगार है। इसमें कैलोरी बहुत कम होती है और फाइबर ज्यादा होता है। एक अमरूद में 112 कैलोरी होती है जिससे बहुत देर तक भूख नहीं लगती। डायबिटिज के रोगियों के लिए तो यह रामबाण है।इसका नियमित सेवन करने से वजन कम होता है और पाचन शक्ति बढ़ती है। अगर आपके मुंह से दुर्गंध आती है तो अमरूद की कोमल पत्त‍ियों को चबाना आपके लिए फायदेमंद रहेगा। इसकी पत्तियों में एंटी-बैक्टीरियल क्षमता होती है जिसको चबाने से दांतों का दर्द भी कम हो जाता है।

अमरूद त्वचा की डैमेजे सेल की मरम्मत करके उन्हें स्वस्थ बनाए रखता है जिससे झुर्रियां या झाइयां भी नहीं पड़तीं। अमरूद की पत्त‍ियों को पीसकर उसका पेस्ट बनाकर आंखों के नीचे लगाने से काले घेरे और सूजन कम हो जाती है।अमरूद दांतों और मसूढ़ों को मजबूत बनाता है। अमरूद की पत्तियां चबाने से मुंह के छाले में राहत मिलती है। अमरूद का रस घाव को जल्दी भरने का काम करता है।

Follow us on twitter – https://twitter.com/uttarakhandpost

 Like our Facebook Page – https://www.facebook.com/Uttrakhandpost/