इस एक्सप्रेस-वे पर फ्री सफर खत्म, 1380 रुपये तक करना होगा टोल भुगतान

नई दिल्ली (उत्तराखंड पोस्ट ब्यूरो) देश के पहले सोलर लाइटिंग वाले ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस-वे पर आज रात से मुफ्त में सफर करने का मजा आप नहीं ले पाएंगे।

कोंडली-गाजियाबाद-पलवल एक्सप्रेस वे पर यात्रा करने के लिए शुक्रवार रात से टोल का भुगतान करना होगा। एक्सप्रेस वे पर टोल का भुगतान करने के लिए 8 प्लाजा बनाए गए हैं। ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस-वे पर वाहनों के हिसाब से अलग-अलग टोल दर तय की गई है।

मीडिया रिपोर्टस के अनुसार ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस-वे पर टोल शुल्क 25 रुपये से शुरू होकर 1380 रुपये तक रहेगी।

27 मई को कोंडली-गाजियाबाद-पलवल एक्सप्रेस वे (केजीपी) के उद्घाटन के बाद से इस पर वाहनों का आवागमन फ्री रखा गया था लेकिन अब एक्सप्रेस वे पर यात्रा करने के लिए आपको टोल का भुगतान करना होगा।

नेशनल हाइवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (NHAI) के एक सीनियर अधिकारी ने बताया कि 15 जून से केजीपी पर यात्रा करने के लिए टोल का भुगतान करना होगा। ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस-वे पर टोल की शुरुआत यूपी और हरियाणा में जाखौली, मवि कलां, डासना, दुहाई, बीलअकबरपुर, मौजपुर, फतेहपुर रामपुर और छज्जू नगर से होगी। उन्होंने बताया कि सभी टोल प्लाजा अशोका बिल्डकॉन लिमिटेड की तरफ से ऑपरेट किए जाएंगे।

टोल की न्यूनतम दर 25 रुपये और अधिकतम 1,380 रुपये होगी। उन्होंने कहा कि कार, वैन, जीप जैसे हल्के वाहनों का मवि कलां से जाखौली तक का एनएच 1 पर टोल टैक्स 25 रुपये होगा और दुहाई तक 70 रुपये लिए जाएंगे। वहीं डासना तक के लिए 80 रुपये लिए जाएंगे। इसी तरह बीलअकबरपुर तक के लिए 115 रुपये और फतेहपुर रामपुर तक के लिए 130 रुपये का भुगतान करना होगा। इसी तरह मौजपुर तक के लिए 170 रुपये और छज्जू नगर तक के लिए एनएच 2 पर 215 रुपये टोल टैक्स लिया जाएगा।

गौरतलब है कि इस 135 किमी लंबे एक्सप्रेस वे को करीब 11 हजार करोड़ रुपये की लागत से तैयार किया गया है।

  (उत्तराखंडपोस्ट के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैंआप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)