खुशखबरी | उत्तराखंड मुक्त विश्वविद्यालय के इन 18 कोर्स को दोबारा मिली मान्यता, यहां देखें पूरी लिस्ट

389
देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट)  विश्वविद्यालय अनुदान आयोग ने उत्तराखंड मुक्त विश्वविद्यालय (यूओयू) को 75 में से 18 कोर्स संचालित करने की अनुमति  दे दी है। इसकी सूची बुधवार को यूजीसी ने अपनी वेबसाइट पर भी जारी कर दी। इन सभी कोर्सेज में 20 अक्तूबर तक दाखिले होंगे। बता देम कि यूजीसी ने इस साल मुक्त विवि के 75 कोर्स की मान्यता खत्म कर दी थी। इस वजह से इनमें दाखिले नहीं हो पाए थे। बाद में उच्च शिक्षा राज्यमंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावडेकर से वार्ता की। यूजीसी में मुक्त विवि ने अपना पक्ष रखा। आखिरकार यूजीसी ने देशभर के दूरस्थ शिक्षा संस्थानों को 535वीं बैठक में इस साल सशर्त कोर्स चलाने की अनुमति दे दी है।
इसके साथ ही यूनिवर्सिटी ऑफ पेट्रोलियम एंड एनर्जी स्टडीज को भी यूजीसी ने पांच कोर्स की मान्यता दे दी है। पहले इस विवि को केवल एक बीबीए की मान्यता दी गई थी। यूपीईएस की ओर से यूजीसी में अपना पक्ष रखा गया था। इसके बाद अब यूपीईएस को एमबीए एविएशन मैनेजमेंट, एमबीए इंफ्रास्ट्रक्चर मैनेजमेंट, एमबीए इंटरनेशनल बिजनेस, एमबीए लॉजिस्टिक एंड सप्लाई चेन मैनेजमेंट, एमबीए ऑयल एंड गैस मैनेजमेंट की मान्यता मिल गई है।
 अब इन कोर्स में मिली मान्यता | मास्टर ऑफ होटल मैनेजमेंट (एमएचएम), लबैचलर ऑफ कॉमर्स (बीकॉम), बैचलर ऑफ साइंस (बीएससी), बैचलर ऑफ साइंस (बीएससी) (सिंगल सब्जेक्ट), बैचलर ऑफ होटल मैनेजमेंट (बीएचएम), बैचलर ऑफ स्पेशल एजुकेशन लर्निंग डिसेबिलिटीज (बीएसईएलडी), बैचलर ऑफ स्पेशल एजुकेशन मेंटल रिटार्डेशन (बीएसईएमआर), बैचलर ऑफ टूरिज्म एंड ट्रेवल मैनेजमेंट (बीटीटीएम), मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन (एमबीए), मास्टर ऑफ कंप्यूटर एप्लीकेशन (एमसीए), मास्टर ऑफ टूरिज्म एंड ट्रेवल मैनेजमेंट (एमटीटीएम), मास्टर ऑफ साइंस (एमएससी) (साइबर सिक्योरिटी), मास्टर ऑफ साइंस (एमएससी) इंफोर्मेशन टेक्नोलॉजी (आईटी), ास्टर ऑफ आर्ट्स (एमए) जियो इंफोर्मेटिक्स (जीआई), मास्टर ऑफ आर्ट्स जर्नलिज्म एंड मास कम्यूनिकेशन (एमजेएमसी), मास्टर ऑफ साइंस (एमएससी) जियो इंफोर्मेटिक्स (जीआई), मास्टर ऑफ आर्ट्स (एमए) सोशियोलॉजी, मास्टर ऑफ कॉमर्स (एमकॉम)।
www.uttarakhandpost.com
Follow us on twitter – https://twitter.com/uttarakhandpost
Like our Facebook Page – https://www.facebook.com/Uttrakhandpost/