उत्तराखंड के मशरूम उत्पादकों के लिए अच्छी ख़बर

CM Photo 04 dt. 26 February, 2016उत्तराखंड में मशरूम उत्पादन कर रहे लोगों के लिए अच्छी खबर है। उत्तराखंड सरकार ने मशरूम उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए 5-6 थ्रस्ट एरिया विकसित करने का फैसला लिया है। इतना ही नहीं राज्य सरकार इन क्षेत्रों में मशरूम की खेती के लिए इच्छुक महिलाओं को  प्रशिक्षण भी देगी। सरकारी खर्च पर प्रशिक्षण देने के जिम्मा सहकारिता विभाग व हाॅर्टीकल्चर विभाग मिलकर संभालने। शुक्रवार को न्यू कैंट रोड़ स्थित मुख्यमंत्री आवास में सहकारिता विभाग की ओर से आयोजित मशरूम प्रदर्शनी का अवलोकन करने के बाद मुख्यमंत्री हरीश रावत ने ये घोषणा की।
CM Photo 03 dt. 26 February, 2016मुख्यमंत्री रावत ने प्रदर्शनी में प्रस्तुत किए गए मशरूम व मशरूम से बने सलाद व अचार की प्रशंसा करते हुए कहा कि पर्वतीय क्षेत्रों में मशरूम का काफी स्कोप है। यहां की जलवायु इसके उत्पादन के लिए अनुकूल है। पर्वतीय क्षेत्रों में खाली मकानों में इसे उगाया जा सकता है। यह ग्रामीणों की आजीविका व रोजगार का महत्वपूर्ण साधन हो सकता है।
रावत ने कहा कि हमने रवाईं को मशरूम घाटी घोषित किया है। वहां इस पर अच्छा काम हो रहा है। इसके अलावा बहुत से लोग व्यक्तिगत स्तर पर भी अच्छा काम कर रहे हैं। उन्होंने सौम्या फूड्स सहकारी समिति की सुश्री दिव्या रावत की सराहना करते हुए कहा कि चमोली जिले में मशरूम उत्पादन में उनके द्वारा किया गया काम दूसरों को भी प्रेरित कर रहा है।