सीमा पर शहीद हुआ उत्तराखंड का लाल, पिता ने कहा- देश पर ऐसे सौ बेटे कुर्बान

157101

shaheeddकश्मीर में एलओसी पर पाकिस्तानी आतंकियों की घुसपैठ की कोशिश को नाकाम करते हुए उत्तराखंड का लाल शहीद हो गया।

6 गढ़वाल राइफल्स के संदीप सिंह रावत कुपवाड़ा के तंगधार सेक्टर में तैनात थे। बृहस्पतिवार दोपहर तंगधार सेक्टर में साथियों के साथ पेट्रोलिंग पर थे। इसी दौरान एलओसी पर संदिग्धों के दिखने पर जवानों ने ललकारा तो इन्होंने जवानों पर फायरिंग शुरू कर दी। गोलीबारी में संदीप सिंह रावत शहीद हो गए जबकि उनका एक साथी घायल हो गया।

गढ़वाल राइफल्स के जवान संदीप सिंह रावत देहरादून के रहने वाले थे। दो साल पहले देशसेवा का जज्बा लिए हुए उन्होंने सेना ज्वाइन की थी। संदीप का पार्थिव शरीर शुक्रवार दोपहर बाद देहरादून लाया जाएगा।

22शहीद संदीप के पिता ने अपने बेटे की शहादत पर कहा कि उन्हें अपने बेटे पर गर्व है, ऐसे सौ बेटे, देश पर कुर्बान हैं। उन्होंने कहा कि उनका बेटा बचपन से ही फौज में जाने की जिद करता था, मुझे गर्व है कि मेरा बेटा सीने पर गोली खाकर शहीद हुआ।

उन्होंने ये भी बताया कि संदीप  से कुछ दिन पहले ही बात हुई थी और उसने दिवाली पर घर आने की बात कही थी।