कोरोना लॉकडाउन | उत्तराखंड पुलिस जो कर रही है वो सबको देखना चाहिए

देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए पूरा देश 14 अप्रेल तक लॉकडाउन में है। हालांकि, इस दौरान जरूरी वस्तुओं की आपूर्ति जारी रहेगी।

उत्तराखंड पुलिस भी कोरोना के खिलाफ पूरे देश की इस जंग में पूरी मुस्तैदी से जुटी हुई है। इतना ही नहीं जरुरत पड़ने पर उत्तराखंड पुलिस के जवान लोगों को घर जाकर दवाएं और जरुरी सामान पहुंचा रहे हैं।

देहरादून में भी उत्तराखंड पुलिस का ये मानवीय चेहरा देखने को मिला, जब इस लॉकडाउन के दौरान एक बुजुर्ग महिला की पुलिस ने मदद की।

दरअसल देहरादून की नेहरू कालोनी में एक बुजुर्ग महिला ने कॉल एवं मैसेज कर अपनी BP की दवा अनिवार्य रूप से चाहने हेतु उत्तराखंड पुलिस से संपर्क कर निवेदन किया। जिस पर सब इंस्पेक्चर दिलवर सिंह नेगी उनके घर गए, उनसे दवा का पर्चा लिया और फिर उननके घर पर लाकर दवा दी।

इतना ही नहीं उत्तराखंड पुलिस के जवान लॉकडाउन के दौरान असहाय लोगों की भी मदद कर रही है। पुलिस के जवान अपने घर से खाना लाकर असहाय लोगों का पेट भर रहे हैं।

जनता की सुरक्षा के लिए उत्तराखंड पुलिस के जवान कोरोना के खतरे के बीच काम कर रहे हैं और अपने घर से दूर हैं। लॉकडाउन ड्यूटी में लगे देहरादून के लक्ष्मणचौक चौकी में तैनात SI लोकेन्द्र बहुगुणा 6 दिन बाद पहली बार अपने दो मासूम बच्चों और पत्नी से मिलने घर गये। घर पहुंचे तो बच्चे अपने पिता को इतने दिन बाद देख दौड़ पड़े। परंतु लोकेन्द्र बहुगुणा घर के बाहर ही रहे और बच्चों को 10 फिट दूर दरवाजे से ही देखते रहे। एक सप्ताह में हजारों लोगों के संपर्क में आये होंगे तो अपने परिवार की सुरक्षा के लिए अपने ही घर से गैर बन गए और बाहर आंगन में बैठकर पत्नी और बच्चों से बातचीत की। पत्नी ने खाना भी बाहर ही रख दिया जिसे कुछ मिनटों में खाकर वे फिर से अपने कर्तव्य आपकी सुरक्षा के लिए सड़कों पर उतर आए।

उत्तराखंड पुलिस के डीजी लॉ एंड आर्डर अशोक कुमार ने प्रदेश के पुलिसकर्मियों को निर्देश देते हुए कहा है कि सभी ध्यान रखें कि यह एक लम्बा लॉकडाउन है। लोगों के प्रति हमें हैल्पिंग और मानवीय दृष्टिकोण अपनाना है। हमें पुलिस ने ज्यादती की जैसी शिकायतें नहीं आने देनी हैं। हमें संयम और सतर्कता को नहीं खोना है। हमारी छवि सकारात्मक होनी चाहिए क्योंकि ये सब हम जनता के लिए ही कर रहे हैं।

उन्होंने जनता से अपील करते हुए कहा कि एक बड़ी चुनौती हमारे सामने है। इस कठिन घड़ी में उत्तराखंड पुलिस आपकी सुरक्षा के लिए मुस्तैद है। इस चुनौती से निपटने के लिए हमें आपके सहयोग की जरूरत है। कृपया घर से बाहर न निकलें। आपके सहयोग से ही इस चुनौती से हम सब निपटेंगे। घर में रहे सुरक्षित रहें और पुलिस का सहयोग करें।

आपकी सुरक्षा में तैनात उत्तराखंड पुलिस के जवान अगर सोशल डिस्टेंस को अपना सकते हैं, तो आप क्यों नहीं। आपसे विनम्र अनुरोध है कृपया लॉकडाउन के निर्देशों और सोशल डिस्टेंसिंग का गंभीरता से पालन करें। यह आप और आपके परिवार की सुरक्षा के लिए है।

Youtube – http://www.youtube.com/c/UttarakhandPost

Twitter– https://twitter.com/uttarakhandpost                                

Facebook Page– https://www.facebook.com/Uttrakhandpost