उच्च शिक्षा में अमेरिका से बेहतर है उत्तराखंड की स्थिति: मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री हरीश रावत ने रविवार को हरिद्वार के निर्भय फार्म हाऊस फेरूपुर में मेधावी छात्र/छात्राओं को सम्मानित किया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में शिक्षा के स्तर में काफी तेजी से सुधार हो रहा है। उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड में इण्टर के बाद औसतन 38 प्रतिशत छात्र उच्च शिक्षा में प्रवेश ले रहे
 

मुख्यमंत्री हरीश रावत ने रविवार को हरिद्वार के निर्भय फार्म हाऊस फेरूपुर में मेधावी छात्र/छात्राओं को सम्मानित किया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में शिक्षा के स्तर में काफी तेजी से सुधार हो रहा है।

उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड में इण्टर के बाद औसतन 38 प्रतिशत छात्र उच्च शिक्षा में प्रवेश ले रहे हैं जबकि अमेरिका में 28 प्रतिशत बच्चे  इण्टर के बाद उच्च शिक्षा में प्रवेश ले रहे हैं। उन्होंने कहा कि तकनीकि शिक्षा के क्षेत्र में उत्तराखण्ड अच्छे पायदान पर खड़ा है।

राज्य सरकार तकनीकि शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए विशेष प्रयास कर रही है। रावत ने कहा कि वर्तमान में उत्तराखण्ड में 150 से अधिक आई.टी.आई. एवं 75 से अधिक पॉलिटैक्निक कॉलेज हैं। शिक्षा की गुणवत्ता को और बेहतर करने के लिए 500 स्कूल मॉडल स्कूलों के रूप में  विकसित किये जा रहे हैं।

उन्होंने कहा कि आज समाज को बाहुबलियों नहीं बल्कि बुद्धिजीवियों की अधिक आवश्यकता है। अपनी बौद्धिक क्षमता का सकारात्मक प्रयोग कर ही हम समाज, राज्य, एवं देश के विकास में महत्वपूर्ण योगदान दे सकते हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि बहादराबाद में पृथ्वीराज चौहान एवं लक्सर में राजेश पायलट की मूर्ति स्थापना की जायेगी। मंगलौर-बहादराबाद बाईपास का नाम पृथ्वीराज चौहान के नाम से रखा जायेगा। उन्होंने कहा राज्य के सम्पूर्ण विकास के लिए महिलाओं का सशक्त होना जरूरी है। राज्य सरकार महिला सशक्तीकरण के लिए निरन्तर प्रयासरत है। उन्होंने कहा कि महिला स्वयं सहायता समूह बनाये जाएं। जो महिला समूह सुसुप्त अवस्था में हैं, उन्हें सक्रिय किया जाए।

इस अवसर पर विधायक आदेश चैहान, अनुपमा रावत, पुरूषोत्तम शर्मा, पूर्व महिला आयोग की अध्यक्ष संतोष चौहान, क्षत्रिय समाज के अध्यक्ष राजेन्द्र चौहान, जिलाधिकारी हरबंस सिंह चुघ, एस.एस.पी. राजीव स्वरूप आदि उपस्थित थे।

From around the web