साढ़े पांच लाख रुपये में लगी 0001 नंबर की बोली, लेकिन बिका 35,500 रुपये में

136

नोएडा (उत्तराखंड पोस्ट) नोएडा परिवहन विभाग की वाहनों के आकर्षक नंबरों की नीलामी प्रक्रिया सवालों के घेरे में आ गई है। खुली नीलामी में 0001 नंबर पर साढे़ पांच लाख रुपये की बोली लगाई थी। बाद में वही नंबर मात्र साढे़ पैंतीस हजार रुपये में बिक पाया।

दरसअल नियमानुसार बोली लगाई गई और 0001 नंबर पर एक खरीदार ने साढे़ पांच लाख रुपये की बोली लगाई थी तो दूसरे ने 5 लाख की। जबकि तीसरे ने मात्र 35, 500 रुपये की ही बोली लगाई थी। बोली लगाने के बाद पहले और दूसरे खरीदार ने पैसा जमा नहीं किया। इस वजह से यह नंबर तीसरे खरीदार को स्वत: अलॉट हो गया।

मामले की जानकारी जब अधिवक्ता बलराज भाटी को लगी तो उन्होंने शनिवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और परिवहन मंत्री स्वतंत्रदेव सिंह से इसकी शिकायत कर दी। वहीं, सोमवार को जब रजिस्ट्रेशन के लिए फाइल परिवहन विभाग के कार्यालय पहुंची तो अधिकारी भी सकते में आ गए। इतनी कम राशि पर नंबर बिकने से विभाग को करीब 5 लाख 14 हजार 500 रुपये के राजस्व का नुकसान हुआ है।