वीडियो- उत्तराखंड की सियासत में "नालायक" की चर्चा! पूर्व सीएम त्रिवेंद्र के बयान पर चढ़ा सियासी पारा

  1. Home
  2. Dehradun

वीडियो- उत्तराखंड की सियासत में "नालायक" की चर्चा! पूर्व सीएम त्रिवेंद्र के बयान पर चढ़ा सियासी पारा

Trivendra

उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत एक बार फिर चर्चाओं में है। दरअसल, पूर्व सीएम ने जोशीमठ त्रासदी के बीच विकास प्राधिकरण को लेकर एक बयान दिया है जिसको लेकर सियासी गलियारों में तरह-तरह की चर्चाएं है। कांग्रेस उनके बयान को वर्तमान में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से जोड़ रही है।


जोशीमठ (उत्तराखंड पोस्ट) उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत एक बार फिर चर्चाओं में है। दरअसल, पूर्व सीएम ने जोशीमठ त्रासदी के बीच विकास प्राधिकरण को लेकर एक बयान दिया है जिसको लेकर सियासी गलियारों में तरह-तरह की चर्चाएं है। कांग्रेस उनके बयान को वर्तमान में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से जोड़ रही है।

पहले आपको बताते है कि त्रिवेंद्र सिंह रावत ने क्या कहा है। दरअसल, रावत ने मीडिया को दिए बयान में कहा कि लोकतंत्र में सभी लोगों पर जिम्मेदारी होती है, उसमें कोई बहुत बुद्धिमान होता है, कोई कम बुद्धिमान होता है, कोई और कम बुद्धिमान होता है।

पूर्व मुख्यमंत्री ने अपनी बात आगे बढ़ाते हुए कहा कि अब लोकतंत्र की यही विडंमबना है, खूबसूरती है कि जनता अपने प्रतिनिधित्व को चुनती है और इसलिए कई बार भार ऐसे लोगों पर आ जाता है जो उसे उठाने के लायक नहीं होते है। इस तरह की समस्या उत्पन्न होती है।

पूर्व सीएम ने कहा कि मैं सोचता हूं कि विकास प्राधिकरण जो गठित किए गए थे उनके पीछे यही सोच थी। उत्तराखंड भकंपीय दृष्टि से बहुत ज्यादा असंतुलित है। भूगर्भीय हालात यहां के अनुकूल नहीं है। इसलिए ठीक तरह से, व्यवस्थित तरह से, नियोजित तरीके से निर्माण हो सके, विकास योजनाए हो सके इसलिए विकास प्राधिकरण बनाया गया था। त्रिवेंद्र ने आखिर में कहा कि तकलीफ तो होती है, कष्ट भी होता है।

अब त्रिवेंद्र सिंह रावत के इस बयान को कांग्रेस ने वर्तमान में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से जोड़ दिया है। कांग्रेस कह रही है कि रावत ने बिना नाम लिए मुख्यमंत्री धामी पर निशाना साधा है। कांग्रेस के नेता इस वीडियो को शेयर कर कह रहे है उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री अपनी ही पार्टी के वर्तमान मुख्यमंत्री के लिए क्या बोल रहे हैं, सुन लीजिए ज़रा।

बहरहाल उत्तराखंड के सियासी गलियारों में, सोशल मीडिया में पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत का ये बयान चर्चा का विषय बना हुआ है। ऐसे में देखना ये होगा कि पूर्व सीएम त्रिवेंद्र के इस बयान पर भारतीय नता पार्टी कांग्रेस को क्या जवाब देगी?

uttarakhand postपर हमसे जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक  करे , साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमे गूगल न्यूज़  google newsपर फॉलो करे