उत्तराखंड कांग्रेस में होगा बड़ा बदलाव ? बड़े नेता दिल्ली तलब, हरदा के समर्थन में ये कांग्रेसी दिग्गज

सूत्रों के हवाले से खबर है कि उत्तराखंड कांग्रेस के दिग्गज नेता दिल्ली तलब किए गए हैं। हरीश रावत के सपोर्ट में सुरेंद्र अग्रवाल तो हैं हीं साथ ही राज्यसभा सदस्य प्रदीप टम्टा, जागेश्वर विधायक और पूर्व विस अध्यक्ष गोविंद सिंह कुंजवाल और धारचूला विधायक हरीश धामी खुलकर पूर्व सीएम के पक्ष में उतर चुके हैं।
 
Harish

 

देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) पूर्व सीएम हरीश रावत अपनी ही पार्टी से नाराज हैं। हरीश रावत के ट्वीट से सोशल मीडिया समेत अन्य दलों में सनसनी फैल गई है।

सूत्रों के हवाले से खबर है कि उत्तराखंड कांग्रेस के दिग्गज नेता दिल्ली तलब किए गए हैं। हरीश रावत के सपोर्ट में सुरेंद्र अग्रवाल तो हैं हीं साथ ही राज्यसभा सदस्य प्रदीप टम्टा, जागेश्वर विधायक और पूर्व विस अध्यक्ष गोविंद सिंह कुंजवाल और धारचूला विधायक हरीश धामी खुलकर पूर्व सीएम के पक्ष में उतर चुके हैं।

इन सबका कहना है कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं से लेकर आम लोग की पसंद भी हरीश रावत है। लिहाजा, केंद्रीय नेतृत्व को उन्हें चेहरा घोषित करना चाहिए। गोविंद सिंह कुंजवाल ने तो स्पष्ट कह दिया कि जहां हरीश रावत जाएंगे वहां हम सब जाएंगे। वहीं, विधायक धामी बोले कि अगर हरदा को सीएम नहीं बनाया तो अलग लाइन में खड़े होने वालों में वह सबसे आगे होंगे।

पूर्व विधानसभा अध्यक्ष व विधायक गोविंद सिंह कुंजवाल ने कहा कि चुनाव अभियान समिति का अध्यक्ष होने की वजह से पार्टी के सभी कार्यक्रम हरीश रावत के नेतृत्व और मार्गदर्शन में होने चाहिए थे। मगर कुछ लोगों ने अलग रैली और कार्यक्रम शुरू किए तो विवाद खड़ा होना स्वाभाविक है। मेरा मानना है कि जो लोग कांग्रेस को सत्ता में नहीं चाहते, यह कारनामे उनके हैं। जनता और तमाम सर्वे कह चुके हैं कि हरीश रावत से बड़ा नेता उत्तराखंड में कोई नहीं है। उनके भीतर प्रदेश को लेकर पीड़ा है। अगर वह दूसरे दल में जाते हैं तो हम सब साथ जाएंगे।

From around the web