कोरना की तीसरी लहर आई तो कैसे निपटेगा उत्तराखंड? CM धामी ने अधिकारियों को दिए ये निर्देश

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गुरूवार को सचिवालय में कोविड से बचाव के लिये की गई व्यवस्थाओं की समीक्षा की। उन्होंने निर्देश दिये कि कोविड से बचाव में टीकाकरण जरूरी है, इसके साथ ही टेस्टिंग पर भी ध्यान दिया जाय।
 
Pushkar_Dhami

देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गुरूवार को सचिवालय में कोविड से बचाव के लिये की गई व्यवस्थाओं की समीक्षा की। उन्होंने निर्देश दिये कि कोविड से बचाव में टीकाकरण जरूरी है, इसके साथ ही टेस्टिंग पर भी ध्यान दिया जाय। मुख्यमंत्री ने कोरोना की संभावित तीसरी लहर के दृष्टिगत सभी आवश्यक व्यवस्थायें सुनिश्चित करने के भी निर्देश दिये हैं।

उन्होंने कहा कि अतिरिक्त वैक्सीन की व्यवस्था के लिये वे केन्द्र सरकार से अनुरोध करेंगे। मुख्यमंत्री ने सभी जिला अस्पतालों, सीएससी, पीएससी में पर्याप्त संख्या में आक्सीजन, आईसीयू, वेंटिलेटर तथा बच्चों के अलग से वार्ड बनाये जाने को कहा। उन्होंने कहा कि इस सम्बन्ध में सभी आवश्यक व्यवस्थायें जुलाई अन्त तक सुनिश्चित कर ली जाय। मुख्यमंत्री ने पीएम केयर फण्ड के साथ ही सीएसआर के तहत उपलब्ध कराये गये उपकरणों के रख रखाव पर भी ध्यान देने को कहा।

सचिव स्वास्थ्य अमित नेगी ने मुख्यमंत्री को अवगत कराया कि कोविड से बचाव के लिये स्वास्थ्य सुविधाओं के विकास पर ध्यान दिया गया है। राज्य में पर्याप्त मात्रा में आक्सीजन की उपलब्धता है। वैक्सिनेशन में राज्य का देश में 5वां स्थान है। उन्होंने व्यापक प्रस्तुतीकरण के माध्यम से इस सम्बन्ध में की गई व्यवस्थाओं की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि डाक्टरों के साथ ही पैरामेडिकल स्टाफ को इससे बचाव के लिये प्रशिक्षित किया गया है। उन्होने बताया कि प्रदेश में कोरोना के प्रसार में काफी कमी आयी है।

इस अवसर पर मुख्य सचिव डॉ.एस.एस.सन्धु, अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी, आनन्द बर्द्धन, सचिव डॉ. पंकज कुमार पाण्डे आदि उपस्थित थे।

From around the web