उत्तराखंड में सरकार ने 15 जून तक बढ़ाया कोरोना कर्फ्यू, जानिए क्या खुलेगा क्या बंद रहेगा ?

उत्तराखंड से आज की बड़ी खबर सामने आयी है। तीरथ सरकार ने प्रदेश में 15 जून तक कर्फ्यू बढ़ा दिया है। अब राज्य में 15 जून सुबह 6:00 बजे तक कोरोनावायरस कर्फ्यू प्रभावी रहेगा।
 
Corona Curfew
 

 

देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) उत्तराखंड से आज की बड़ी खबर सामने आयी है। तीरथ सरकार ने प्रदेश में 15 जून तक कर्फ्यू बढ़ा दिया है। अब राज्य में 15 जून सुबह 6:00 बजे तक कोरोनावायरस कर्फ्यू प्रभावी रहेगा।

मुख्य सचिव द्वारा जारी किए गए आदेश में स्पष्ट कहा गया है। जिलों के जिलाधिकारी अपने क्षेत्रों में कोरोनावायरस संक्रमण को ध्यान में रखते हुए छूट जारी करेंगे। इसके अलावा इस सप्ताह शराब की दुकानें भी 3 दिन खोली जाएंगी।

साथ ही साथ ही 9 जून और 14 जून को राशन की दुकानें को लेंगे जबकि शराब की दुकान है 9 जून 11 जून और 14 जून को खोली जायेंगी

कर्फ्यू के दौरान वैक्सीनेशन का कार्यक्रम जारी रहेगा। वैक्सीनेशन के लिए आपको अपना रजिस्ट्रेशन दिखाना होगा। राज्य में सरकार द्वारा अभी यथासंभव विवाह समारोह आयोजित न कराने की सलाह दी गई है। है। इसके बावजूद अगर विवाह समारोह स्थगित करना संभव न हो तो अधिकतम 20 लोग ही शामिल हो सकते हैं। इन सभी को rt-pcr नेगेटिव टेस्ट रिपोर्ट साथ में रखनी होगी। शवयात्रा में अधिकतम 20 लोग शामिल हो सकेंगे।

सभी शैक्षिक, कोचिंग संस्थान अग्रिम आदेश तक बंद रहेंगे। ऑनलाइन स्टडी जारी रहेगी। सभी सिनेमा हॉल, शॉपिंग मॉल, व्यापारिक प्रतिष्ठान, बाजार, खेल संस्थान, स्टेडियम, स्विमिंग पूल, मनोरंजन पार्क, थिएटर, ऑडिटोरियम अग्रिम आदेश तक बंद रहेंगे। सभी सामाजिक राजनीतिक खेल गतिविधियां मनोरंजन शैक्षिक और सांस्कृतिक कार्यक्रम अग्रिम आदेश तक बंद रहेंगे।

स्टेशनरी शॉप और किताब की दुकान  9 और 14 जून को सुबह 8 से 1 बजे तक खुलेंगी। राशन और जनरल स्टोर 9 और 14 जून को सुबह 8:00 से 1:00 बजे तक खुलेंगे। दर्जी की दुकान, ड्राई क्लीन शॉप,  रेडीमेड गारमेंट्स , औद्योगिक मशीनरी और मोटर पार्ट्स की दुकान 11 जून को सुबह 8:00 से 1 बजे तक खुलेंगे।

बाहरी राज्यों से उत्तराखंड में आने वाले लोगों को 72 घंटे पुरानी rt-pcr नेगेटिव टेस्ट रिपोर्ट के साथ ही अनुमति दी जाएगी। उत्तराखंड में आने के लिए स्मार्ट सिटी पोर्टल में रजिस्ट्रेशन कराना होगा। बाहरी राज्यों से उत्तराखंड के अपने पैतृक गांव में आने वाले निवासियों को 7 दिन के लिए गांव के क्वारंटाइन सेंटर में रहना होगा। बैंक शाखाएं सुबह 10 बजे से दोपहर 2 बजे तक चलेंगे।

From around the web