नैनीताल-मसूरी जाने से पहले जरूर पढ़े ये खबर, प्रशासन ने लिया ये फैसला

कोरोना की दूसरी लहर कमजोर पड़ने और कोरोना कर्फ्यू में राहत मिलने के बाद मसूरी, और नैनीताल में पर्यटकों की भीड़ दिखने लगी है। बीते कुछ दिन में कुछ तस्वीरें सामने आयी थी जो कोरोना के लिहाज से काफी डरावनी थी। सोशल मीडिया पर इसके वीडियो वायरल हो रहे थे, लोग कह रहे थे कि ऐसे लापरवाही बरतने से ही तीसरी लहर आएगी।
 
0000

देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) कोरोना की दूसरी लहर कमजोर पड़ने और कोरोना कर्फ्यू में राहत मिलने के बाद मसूरी, और नैनीताल में पर्यटकों की भीड़ दिखने लगी है। बीते कुछ दिन में कुछ तस्वीरें सामने आयी थी जो कोरोना के लिहाज से काफी डरावनी थी। सोशल मीडिया पर इसके वीडियो वायरल हो रहे थे, लोग कह रहे थे कि ऐसे लापरवाही बरतने से ही तीसरी लहर आएगी।

अब कोरोना की तीसरी लहर के संभावित खतरे को देखते हुए प्रशासन ने भी कड़ा कदम उठाया है। अब अगर आप नैनीताल या मसूरी जा रहे है तो इससे पहले इस वीडियो को जरूर देख लें, नही तो आप मुसीबत में फंस सकते है।

अब नैनीताल और मसूरी में प्रशासन ने पर्यटकों के लिए कोरोना निगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य कर दी है। नैनीताल आने वाले पर्यटकों को अब देहरादून स्मार्ट सिटी पोर्टल पर आन लाइन रजिस्ट्रेशन कराना होगा। साथ ही अधिकतम 72 घंटे का कोविड निगेटिव सर्टिफिकेट और होटल में कराई गई बुकिंग के दस्तावेज दिखाने होंगे। ऐसा नही करने वाले पर्यटकों को नैनीताल शहर में प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा। यह आदेश 12 जुलाई की प्रात: आठ बजे तक लागू होगा।

वहीं मसूरी में भी प्रशासन ने  फैसला किया है कि यहां प्रवेश करने वाले सभी सैलानियों के पास कोरोना निगेटिव रिपोर्ट होनी चाहिए और अगर सैलानियों के पास रिपोर्ट नहीं हुई तो उन्हें मसूरी के कोल्हूखेत से ही वापस भेज दिया जाएगा। जिन सैलानियों के पास ऑनलाइन होटल बुकिंग और कोरोना जांच रिपोर्ट होगी केवल उन्हें ही जाने की इजाजत दी जाएगी।

From around the web