उत्तराखंड घूमने आ रहे पर्यटक फर्जी कोविड जांच रिपोर्ट  के साथ गिरफ्तार

उत्तराखंड में आने के लिए बाहरी राज्यों के पर्यटकों को 72 घंटे के भीतर की आरटीपीसीआर निगेटिव रिपोर्ट लाना जरूरी है। लेकिन, इससे बचने के लिए लोग फर्जीवाड़े से भी नहीं कतरा रहे हैं। मसूरी घूमने पंहुचे ऐसे ही चार पर्यटक हवालात पहुंच गए।
 
ARREST

देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) उत्तराखंड में आने के लिए बाहरी राज्यों के पर्यटकों को 72 घंटे के भीतर की आरटीपीसीआर निगेटिव रिपोर्ट लाना जरूरी है। लेकिन, इससे बचने के लिए लोग फर्जीवाड़े से भी नहीं कतरा रहे हैं। मसूरी घूमने पंहुचे ऐसे ही चार पर्यटक हवालात पहुंच गए।

मसूरी घूमने आ रहे पर्यटक अशारोड़ी चेक पोस्‍ट पर 4 पर्यटक फर्जी आरटीपीसीआर रिपोर्ट के साथ पकड़े गए। पुलिस ने चारों के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया है।

बुधवार शाम आशारोड़ी चेक पोस्ट पर पुलिस रोज की तरह आरटीपीसीआर और अन्य दस्तावेज चेक कर रही थी। इस दौरान एक कार सवार के पास मिली रिपोर्ट सामान्य नहीं लगी।

थानाध्यक्ष धर्मेंद्र रौतेला ने बताया कि बारीकी से जांच किया तो पता चला कि व्यक्ति के पास कोरोना जांच की 10 फर्जी रिपोर्ट हैं। उसके साथ परिवार के अन्य लोग भी थे। इसके पीछे आ रही एक और कार में तीन लोग सवार थे। इनकी रिपोर्ट भी फर्जी मिली। इनमें तीन पर्यटक गाज़ियाबाद निवासी हैं और एक बिहार का रहने वाला है। ये सभी मसूरी घूमने आ रहे थे। पुलिस ने सभी को गिरफ्तार कर लिया गया है।

पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार पर्यटकों में तरुण मित्तल निवासी 167 सेक्टर 06 चिरंजीव विहार गाजियाबाद, अमित गुप्ता निवासी केएम कवि नगर गाजियाबाद, अमित कौशिक निवासी 126 एफ ब्लाक नेहरूनगर गाजियाबाद औऱ सुजीत कामत निवासी झिडकी जिला मधुबनी बिहार शामिल हैं।

From around the web