उत्तराखंड | यहां ऑफिस के 11 कर्मचारी निकले कोरोना पाॅजिटिव, बने 3 और कंटेनमेंट जोन

उत्तराखंड में एक बार फिर कोरोना के डरावने आंकड़े सामने आन लगे है। उत्तराखंड समेत पूरे देश में अभी कोरोना की दूसरी लहर कहर मचा रही है। उत्तराखंड में राजधानी देहरादून में हर रोज कोरोना के आंकड़े चिंता बढ़ा रहे है।
 
उत्तराखंड | यहां ऑफिस के 11 कर्मचारी निकले कोरोना पाॅजिटिव, बने 3 और कंटेनमेंट जोन

देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) उत्तराखंड में एक बार फिर कोरोना के डरावने आंकड़े सामने आन लगे है। उत्तराखंड समेत पूरे देश में अभी कोरोना की दूसरी लहर कहर मचा रही है। उत्तराखंड में राजधानी देहरादून में हर रोज कोरोना के आंकड़े चिंता बढ़ा रहे है।

इस बीच ऋषिकेश की टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड के कारपोरेट कार्यालय में 11 कर्मचारियों और उनके परिजनों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद प्रशासन ने टीएचडीसी के आवासीय क्षेत्र में तीन कॉलोनियों के भवनों को माइक्रो कंटेनमेंट जोन बना दिया है। बता दें कि टीएचडीसी का प्रगति पुरम में कारपोरेट ऑफिस और आवासीय कॉलोनी है।

बताया गया कि कुछ कर्मचारियों ने अपनी कोविड-19 जांच कराई थी। जिनमें से 11 कर्मचारियों और उनके स्वजनों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। सूचना के बाद प्रशासन ने मामले को गंभीरता से लेते हुए यहां कंटेनमेंट जोन बनाने पर विचार किया। पहले टीएचडीडीसी के तीन मुख्य को सील करने का निर्णय लिया गया था।

रविवार को उप जिलाधिकारी वरुण चैधरी ने स्वास्थ्य विभाग की टीम के साथ मौका मुआयना किया, जिसके बाद आवासीय कॉलोनी के विस्तृत क्षेत्र और परिस्थितियों को देखते हुए संबंधित कॉलोनी के घरों को ही माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाने का फैसला लिया गया। राजस्व उपनिरीक्षक सतीश जोशी ने टीम के साथ टाइप-3 में चार, टाइप-4 में दो, तथा न्यू टाइप में दो भवनों को माइक्रो कंटेंटमेंट बनाया है। इन आठ भवनों में लगभग 32 परिवार निवासरत हैं। अग्रिम आदेश तक यह सभी परिवार कोविड-19 की गाइड लाइन के अनुसार आइसोलेशन में रहेंगे, जिन्हें सभी सुविधाएं माइक्रो कंटेनमेंट जोन के भीतर ही उपलब्ध कराई जाएंगी।

From around the web