उत्तराखंड | बेरोजगार युवाओं को CM धामी का एक और बड़ा तोहफा

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी उत्तराखंड से सबसे युवा मुख्यमंत्री है। CM धामी ने पहली ही कैबिनेट बैठक में रोजगार संबंधित फैसला लेकर युवाओं में नौकरी की उम्मीद जगाई है।
 
0000

देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी उत्तराखंड से सबसे युवा मुख्यमंत्री है। CM धामी ने पहली ही कैबिनेट बैठक में रोजगार संबंधित फैसला लेकर युवाओं में नौकरी की उम्मीद जगाई है।

CM बनने के बाद पुष्कर सिंह धामी के चौबीस घंटों के भीतर किए गए कई फैसले से वह युवाओं के दिल में जगह बनाने लगे हैं। अपने पहले ही फैसले में युवाओं की नब्ज पर हाथ रखते हुए सीएम पुष्कर धामी ने कई महत्वपूर्ण फैसले लिए हैं अगले 6 महीने में 22000 रिक्त पदों पर नौकरी और अतिथि शिक्षकों का मानदेय 15 से 25 हजार बढ़ाना और नौकरी में आयु सीमा पर छूट दिए जाने के फैसले में युवाओं को बड़ी उम्मीद जगाई है।

अब वह युवाओं को एक और तोहफा देने जा रहे है। दरअसल, उत्तराखंड में सरकारी नौकरियों की भर्ती में बेरोजगारों को आयु सीमा में एक साल की विशेष छूट देगी।

कोविड 19 महामारी के कारण भर्ती प्रक्रिया बाधित होने की वजह से सरकार ने यह निर्णय किया है। सोमवार को सीएम पुष्कर सिंह धामी ने अधिकारियों को इस बाबत कैबिनेट प्रस्ताव बनाने के निर्देश दिए हैं। बेरोजगारों के लिए सरकार का यह भी एक बड़ा राहत भरा फैसला होगा। सोमवार को सीएम ने बीजापुर स्टेट गेस्ट में वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक कर कई विषयों पर चर्चा की। उन्होंने रिक्त पदों पर भर्ती की प्रक्रिया को एक तय समय सीमा के भीतर पूरा किया जाए।

इस बैठक में कोविड 19 के कारण भर्ती प्रक्रिया डेड़ साल से ठप होने का मुद्दा भी सीएम के सामने आया। सीएम ने इसे गंभीरता से लेते हुए कहा कि बेरोजगारों को इस अवधि की रियायत मिलनी ही चाहिए। उन्होंने अधिकारियों को इस बाबत कैबिनेट के लिए प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए।

सीएम ने कहा कि प्रदेशवासियों को रोजगार एवं स्वरोजगार से जोड़ना राज्य सरकार की शीर्ष प्राथमिकताओं में है। अधिक से अधिक लोगों को स्वरोजगार से जोड़ने के लिए पूरी योजना बनाई जाए।

From around the web